डायबिटीज के मरीजों के लिए रामबाण है सेब का सिरका, जानें इसे घर पर बनाने का तरीका

Home Remedies to control Diabetes: डायबिटीज टाइप 2 के मरीजों के लिए सेब का सिरका फायदेमंद होता है, खाली पेट बढ़ने वाले ब्लड शुगर लेवल को कम करने में कारगर है

diabetes, diabetes patients in inida, diabetes causes, diabetes precautions, home remedies to control diabetes, apple cider vinegar, apple cider vinegar for diabetes, seb ka sirka for diabetes, apple cider vinegar for cholestrol, tips for diabetic patients, how to control diabetes, type1 diabetes, type2 diabetes, healthy diet for diabetes patients, exercise for diabetes patients, diabetes patients eating tips, blood sugar level, genetic reason for diabetes, overweight leads to diabetes
अगर खाना खाने के बाद एप्पल साइडर विनेगर का सेवन करें तो इस समय जो ब्लड शुगर बढ़ता है उसे कंट्रोल किया जा सकता है

Home Remedies to control Diabetes: भारत में मधुमेह के रोगियों की संख्या काफी अधिक है। अलग-अलग आंकड़ों के अनुसार देश की आबादी का 7.8 प्रतिशत हिस्सा डायबिटीज रोगी है। डायबिटीज के रोगियों को अपने ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखने के लिए हमेशा दवाई खाना पड़ता है। साथ ही साथ एक हेल्दी लाइफस्टाइल को फॉलो करना पड़ता है। इसके अलावा, कई घरेलू नुस्खों से भी डायबिटीज के मरीजों को फायदा होता है। ऐसा ही एक घरेलू आइटम है सेब का सिरका जिसके इस्तेमाल से मधुमेह रोगियों को लाभ हो सकता है। वजन कम करने के लिए सेब का सिरका पीने के फायदे तो सभी जानते हैं, लेकिन इसके और भी कई फायदे हैं। आइए जानते हैं कि कैसे डायबिटीज रोगियों के लिए रामबाण है सेब का सिरका-

कैसे है फायदेमंद: डायबिटीज टाइप 2 के मरीजों के लिए सेब का सिरका फायदेमंद होता है। एक शोध के अनुसार डायबिटीज रोगी अगर खाना खाने के बाद एप्पल साइडर विनेगर का सेवन करें तो इस समय जो ब्लड शुगर बढ़ता है उसे कंट्रोल किया जा सकता है। सभी साइट्रिक फलों की तरह सेब का सिरका शरीर में अल्कलाइन नेचर को बढ़ाता है, ये मधुमेह रोगियों के लिए लाभप्रद है। इसके अलावा, खाली पेट बढ़ने वाले ब्लड शुगर लेवल को कम करने में सेब का सिरका कारगर है। वहीं, ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी नियंत्रित रखता है।

क्या है घर पर बनाने का तरीका: आप चाहें तो सेब का सिरका घर पर भी बना सकते हैं। सेब को छोट-छोटे क्यूब्स में काट लें। अब इन टुकड़ों को पानी और चीनी या फिर पानी और शहद के मिश्रण में डूबा कर फरमेंट होने दें। एक बार जब सब कुछ अच्छे से उस मिश्रण में डूब जाए तो उसे 2 हफ्तों तक ढ़क कर छोड़ दें। 4 सप्ताह के भीतर घर में बना सेब का सिरका तैयार हो जाएगा। सेब का सिरका कभी भी खाली पेट या सीधे सेवन नहीं करना चाहिए। आप इसे पानी में मिलाकर पी सकते हैं या फिर खाना बनाते समय भी इसका प्रयोग किया जाता है। एप्पल साइडर विनेगर प्राकृतिक और ऑर्गेनिक है। इसका कारण यह है कि इसमें गुड बैक्टीरिया की मात्रा ज्यादा होती है।

इन्हें नहीं करना चाहिए इस्तेमाल: सेब का सिरका के पर्याप्त मात्रा में सेवन से वैसे तो कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। लेकिन जिन लोगों को किडनी संबंधित कोई बीमारी है या आंतों और मुंह में छालों की समस्या है, उन्हें इसका का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा, वैसे डायबिटीज मरीज जो पहले से कोई दवाई खा रहे हों, वो इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह-मशविरा जरूर कर लें। बता दें कि एप्पल साइडर विनेगर के ज्यादा इस्तेमाल से शरीर में पोटाशियम की मात्रा घट सकती है। वहीं, इंसुलिन या डायबिटीज की कुछ दवाएं भी शरीर में पोटाशियम की मात्रा घटाती हैं। ऐसे स्थिति में सेब का सिरका आपके लिए खतरनाक हो सकता है।

पढें हेल्थ समाचार (Healthhindi News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट