ताज़ा खबर
 

विदेश के पब्लिक टॉयलेट, जिन्हें देख हैरानी तो होगी पर अजीब भी लगेगा

भारत में बड़ा वर्ग अपने घरों में शौचालय का इस्तेमाल करता है। समय के साथ-साथ अब इन टॉयलेट्स में भी बदलाव आने लगे हैं। हर श्रेणी के लोगों के लिए उनके प्रकार के टॉयलेट्स बाजार में उपलब्ध हैं।

भारत में बड़ा वर्ग अपने घरों में शौचालय का इस्तेमाल करता है। समय के साथ-साथ अब इन टॉयलेट्स में भी बदलाव आने लगे हैं। (Photo: Hindom.com)

भारत में सुबह-सुबह रेलवे लाइन के किनारे एक अलग ही तस्वीर देखने को मिलती है। हर कोई रेलवे पटरियों के किनारे बैठा हुआ मिल जाता है। यहां अधिकांश लोग खुले में शौच करना अपना जन्मसिद्ध अधिकार समझते हैं। ऐसा नहीं है कि भारत में शुलभ शौचालयों की व्यवस्था नहीं है। लेकिन बावजूद इसके कुछ लोगों को खुले में शौच करके संतुष्टि मिलती है। शौचालय जाना जीवित प्राणियों के लिए एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सुबह और रात को शौच जाना अति आवश्यक है। भारत में बड़ा वर्ग अपने घरों में शौचालय का इस्तेमाल करता है। समय के साथ-साथ अब इन टॉयलेट्स में भी बदलाव आने लगे हैं। हर श्रेणी के लोगों के लिए उनके प्रकार के टॉयलेट्स बाजार में उपलब्ध हैं। भारत में लोग नया मकान बनवाते समय खासतौर पर किचन और टॉयलेट्स पर ज्यादा ध्यान देते हैं।

शारीरिक रुप से विकलांग लोगों के लिए उनके सुविधा के अनुसार टॉयलेट्स मौजूद है। वहीं बड़े-बुजु्र्ग के लिए भी अलग तरह के टॉयलेट्स हैं। शहरों में अधिकांश लोग वेस्टर्न टॉयलेट का इस्तेमाल करने लगे हैं। अगर पब्लिक प्लेस की बात करें तो भारत में सरकार के सहयोग से कुछ-कुछ जगहों पर शुलभ शौचालय बने हुए हैं। जहां लोग कुछ रुपये देकर फ्रेश हो सकते हैं। या पिशाब कर सकते हैं।

विदेशों में तस्वीर कुछ अलग है। यहां अजीबों-गरीब तरह के टॉयलेट्स देखने को मिल जाएगा। (Photo: rvcj.com)

वैसे तो भारत में परंपरागत टॉयलेट्स का इस्तेमाल अधिक रुप से किया जाता है। जिसे आम भाषा में इंडियन टॉयलेट कहते हैं। लेकिन विदेशों में तस्वीर कुछ अलग है। यहां अजीबों-गरीब तरह के टॉयलेट्स देखने को आपको मिल जाएगा। जिसे देखकर आप कह ही नहीं सकते कि ये टॉयलेट्स है।

आपने अक्सर पब्लिक प्लेस में देखा होगा कि फायर सिस्टम के पास आग बुझाने के लिए रेत से भरी बाल्टी रखी होती है। आपको लंदन में इस शक्ल में रेस्टरुम मिल जाएगा। (Photo: rvcj.com)

 

भारत में चीनी प्रोडक्ट्स की काफी डिमांड है। चीन नई-नई तकनीक और अजीबों-गरीब चीज बनाने में हमेशा आगे रहता है। तो भला इन मामले में कैसे पीछे ठहर सकता था। उसने यहां भी अपनी कलाकारी दिखाई और महिला की शक्ल में टॉयलेट्स बना दिया। (Photo: rvcj.com)

 

कीनिया में तो हद ही हो गई, यहां भारत की तरह ‘चलता-फिरता शौचालय’ की तरह शुलभ शौचालय देखने को मिल रहा है। (Photo: rvcj.com)

 

बीजिंग में बना बुलेट प्रुफ टॉयलेट। (Photo: rvcj.com)

हमारे भारतीय नेताओं को हमेशा जान का खतरा रहता है। शौचालय के रुप में उनकी सुरक्षा के लिए भी अब विकल्प मौजूद है। चाहे तो वे बीजिंग जैसा बुलेट प्रुफ टॉयलेट बनवा सकते हैं। जिसमें किसी भी गोली-बम, बारुद का असर नहीं।

वाह रे चाईना। ग्रुप टॉयलेट्स भी बना दी। (Photo: rvcj.com)

जिन लोगों को शिकायत होती है कि पहले मैं तो पहले मैं उनके लिए इस तरह के टॉयलेट्स भी मौजूद हैं। इसमें एक साथ कई लोग फ्रेश हो सकते हैं, और तो और आपस में बातचीत भी कर सकते हैं।

कभी आपने सोचा है कि आईस टॉयलेट में भी फ्रेश हुआ जा सकता है। (Photo: rvcj.com)

आपने कभी सोचा है कि बर्फ का इस्तेमाल टॉयलेट बनाने के लिए भी किया जा सकता है। अगर नहीं सोचा तो देखिए यह तस्वीर। हालांकि, लोग यहां फ्रेश होने तो नहीं आते, लेकिन सेल्फी के लिहाज से इसमें कोई बुराई नहीं। बता दें कि यह तस्वीर सियोल की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App