ताज़ा खबर
 

यहां रहने वाले ‘जिंदा भूतों’ के छूने से हो जाती है मौत, पूर्वजों की आत्मा सुलझाती है विवाद!

इस सीक्रेट सोसाइटी के लोगों को 'जिंदा भूत' कहा जाता है।

Author December 27, 2017 4:24 PM
यहां के लोगों का मानना है कि इस इगुनगुन सदस्यों के अंदर मृत पूर्वजों की आत्माएं आती हैं।(फोटो सोर्स- यूट्यूब)

मानव इतिहास में भूत-प्रेतों की कहानियां हमेशा से चली आ रही हैं लेकिन वास्तविक रूप से यह कहानियां कितनी सच है यह कहना मुश्किल हैं। जहां बहुत से लोग भूत की कहानियों पर विश्वास करते हैं तो वहीं इन सब बातों को सिरे से नकारने वाले लोगों की भी संख्या कम नहीं है। विज्ञान आज भी इन कहानियों को सिरे से नकारता है। वहीं दुनिया में ऐसी भी जगह हैं जहां रहने वाले लोगों को ‘जिंदा भूत’ कहा जाता है। जिनके छूने भर से लोगों की मौत हो सकती है। हम बात कर रहे हैं पश्चिम अफ्रीका के छोट से देश बेनिन की। चलिए बताते हैं इस जगह के बारे में कुछ रोचक बातें।

पश्चिम अफ्रीका के छोटे से देश बेनिन के बारे में कहा जाता है कि काले जादू की शुरुआत यही से हुई थी। यहां रहने वाले एक समुदाय के लोगों को इगुनगुन नाम दिया गया है, इन्हें सीक्रेट सोसाइटी माना जाता है। इस सीक्रेट सोसाइटी के लोगों को ‘जिंदा भूत’ कहा जाता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बेनिन में बसा इगुनगुन समुदाय का कोई भी सदस्य अगर किसी को छू लेता है तो उसकी तुरंत मौत हो जाती है और साथ ही उस इगुनगुन सदस्य की भी। इगुनगुन लबादा ओढ़ने के साथ ढेर सारे रंग-बिरंगे कपड़े भी पहनते हैं। ये अपनी पहचान छुपाने के लिए अपने चेहरे को ढंककर रखते हैं।

यहां के लोगों का मानना है कि इस इगुनगुन सदस्यों के अंदर मृत पूर्वजों की आत्माएं आती हैं और राय व्यक्त करते हैं। इसलिए ये लोग गांव के विवादों को सुलझाने और फैसला सुनाने का काम करते हैं। ये बहुत ऊंचे स्वर और अस्पष्ट शब्दों में बात करते हैं। इगुनगुन के साथ कुछ माइंडर रहते हैं जिनके हाथों में छड़ी होती है।

माइंडर लोगों और इगुनगुन के बीच एक निश्चित दूरी बनाकर चलते हैं। यहां तक कि इगुनगुन कहीं बैठकर आराम भी करते हैं, तो माइंडर पहरा देते रहते हैं। इगुनगुन समुदाय के लोगों के साथ ढोल-नगाड़े बजाने वाले लोग भी होते हैं। इगुनगुन ढोल की थाप पर डांस भी करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App