ताज़ा खबर
 

निराश ‘नरेंद्र मोदी भक्त’ ने सोशल मीडिया पर भेजा सुसाइड का इनविटेशन

सुनील शर्मा ने जो निमंत्रण पत्र बनवाया है उसमें खुदकुशी करने की तारीख के साथ ही जगह और समय भी लिखवाया है। सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात ये है कि उन्होंने अपने नाम के साथ 'निराश नमोभक्त' लिखवाया है।
प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना के पूर्व डायरेक्टर सुनील शर्मा ने आत्महत्या करने की चेतावनी देते हुए यह इनविटेशन सोशल मीडिया पर शेयर किया है।

सोशल मीडिया पर एक सुसाइड इनविटेशन तेजी से वायरल हो रहा है। इस निमंत्रण पत्र से देश भर की मीडिया को आमंत्रित किया जा रहा है। इस तरह का निमंत्रण देने वाला कोई और नहीं बल्कि प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना के पूर्व डायरेक्टर सुनील शर्मा हैं। सुनील शर्मा ने भारत सरकार की नीतियों से परेशान होकर आत्महत्या करने की चेतावनी देते हुए यह इनविटेशन सोशल मीडिया पर शेयर किया है। सुनील शर्मा ने जो निमंत्रण पत्र बनवाया है उसमें खुदकुशी करने की तारीख के साथ ही जगह और समय भी लिखवाया है। सबसे ज्यादा गौर करने वाली बात ये है कि उन्होंने अपने नाम के साथ ‘निराश नमोभक्त’ लिखवाया है।

सुनील शर्मा को अपने विभाग के सीईओ से कुछ परेशानी थी। बात इतनी बढ़ गई कि आज वो सोशल मीडिया पर खुदकुशी करने की बात कर रहे हैं। दरअसल प्रधानमंत्री जन औषधि परियोजना, एक अभियान है जो आम जनता के लिए कम कीमत पर अच्छी गुणवत्ता की दवाइयां उपलब्ध कराती है। शर्मा का कहना है कि इस योजना की नए सिरे से शुरुआत के साथ उन्हें डायरेक्टर के पद पर तैनात किया गया। इस योजना के तहत मार्च 2017 तक भारत के 630 जिलों में जेनरिक दवाओं की 3000 दुकानें खोली जानी थी। सरकार ने इसके लिए 2.5 करोड़ खर्च कर विज्ञापन देकर दुकान खोलने के लिए आवेदन मंगवाए। सरकार के विज्ञापन पर तकरीबन 30,000 आवेदन आए। लेकिन सरकार के विज्ञापन में दुकान खोलने की शर्तों के बारे में सही तरीके से नहीं बताया गया था। जिसके वजह से 800 दुकानें ही खुल सकी।

सुनील शर्मा का आरोप है कि CEO विप्लब चटर्जी सरकार की जन लाभकारी योजना के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। इस आरोप के बाद 28 फरवरी 2017 को सुनील शर्म को डायरेक्टर के पद से निलंबित कर दिया गया। शर्मा का कहना है कि सीईओ के पास किसी डायरेक्टर को निकालने का अधिकार नहीं है।

अपने सस्पेंशन से ही आहत होकर इस मामले को सुनील शर्मा ने सोशल मीडिया में उछाल दिया है। उन्होंने बकायदा अपने खुदकुशी की तारीख और समय भी बताई है। अब देखना होगा कि आगे क्या होता है , लेकिन जो भी हो सोशल मीडिया पर इनका ये सुसाइड निमंत्रण जमकर शेयर किया जा रहा है।

OROP Suicide: पूर्व सैनिक के अंतिम संस्‍कार में शामिल हुए राहुल गांधी व अरविंद केजरीवाल:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.