ताज़ा खबर
 

अनोखा आइलैंड जहां हजारों की संख्या में रहते हैं खरगोश

दूसरी थ्योरी के मुताबिक साल 1971 में कुछ स्कूली बच्चे इस आइलैंड पर अपने साथ 8 खरगोश लेकर आए थे।

रैबिट आइलैंड।(फोटो सोर्स- यूट्यूब)

दुनियाभर में ऐसी बहुत सी जगह हैं जिनके बारे में शायद ही आप जानते होंगे। आज हम आपको ऐसी जगह के बारे में बता रहे हैं जहां हजारों की संख्या में खरगोश रहते हैं। यकीन करना मुश्किल है लेकिन ओक्यूनोसहिमा आइलैंड एक ऐसा आइलैंड हैं जहां खरगोशों की संख्या हर किसी को हैरान कर देती है। इस आलैंड पर खरगोश की तादाद ज्यादा होने की वजह से इसे रैबिट आइलैंड भी कहते हैं। इस आइलैंड पर रैबिट की संख्या को लेकर दो कहानियां बताई जाती हैं जो अपने आप में रोचक हैं। आइए बताते हैं इस रैबिट आइलैंड के बारे में कुछ रोचक बातें।

रैबिट आइलैंड की पहली कहानी कुछ यूं है कि दूसरे विश्व युद्ध के दौरान जापानी आर्मी ने इस जगह को केमिकल हथिार बनाने के लिए इस्तेमाल किया था। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो सन् 1929 और 1945 के बीच जापानी सैनिकों ने गुप्त रूप से करीब 6 हजार टन जहरीली गैस बनाई थी। उसी गैस को टेस्ट करने के लिए यहां खरगोशों को लाया गया था लेकिन समय के साथ यहां खरगोशों की संख्या बढ़ती रही और आज यहां उनकी संख्या हजारों में है।

दूसरी कहानी के मुताबिक साल 1971 में कुछ स्कूली बच्चे इस आइलैंड पर अपने साथ 8 खरगोश लेकर आए थे। उन्हीं खरगोश की संख्या आज बढ़कर हजारों में पहुंच गई है। खरगोशों की संख्या बढ़ने की एक वजह उनका शिकार ना होना है। कुत्ते और बिल्ली भी खरगोश का शिकार न कर सके इसलिए उन्हें इस आइलैंड पर नहीं लाया जा सकता। रैबिट आइलैंड पर कुत्ते और बिल्लियों को लाने पर प्रतिबंध लगाया गया है।


खैर कहानी कोई जो भी हो, इस आइलैंड पर खरगोशों की संख्या लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है। यहां इतनी बड़ी संख्या में खरगोशों को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। अब यह आइलैंड टूरिस्ट रिसोर्ट के लिए पॉपुलर हो गया है, जिसमें एक गोल्फ कोर्स का मैदान भी बना हुआ है। इस आइलैंड पर आने वाले टूरिस्टों के लिए बाकायदा एक राइड का इंतजाम किया गया है, जिसके जरिए इस आइलैंड के खूबसूरत नजारों का लुत्फ उठाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App