ताज़ा खबर
 

इस देश में वेश्‍याओं के हालात खराब, ग्राहकों के पास देने को पैसे ही नहीं

यहां इतनी कम फीस होने पर एवगिलिना कहती हैं कि ग्रीस पिछले एक दशक से आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। यहां नगदी का संकट है। अर्थव्यवस्था तबाह हो गई है। इससे हजारों की तादाद में प्रवासी इस पेशे में आ गए हैं। महिलाएं भी खासतौर पर इस पेशे में आ गई हैं। ऐसे में वेश्याओं की फीस बहुत कम हो गई है। साल 2012 में यहां एक ग्राहक को वेश्या के लिए औसतम 39 यूरो का भुगतान करना होता था।

Author Updated: October 28, 2018 1:36 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

भारी वित्तीय संकट में घिरे ग्रीस (यूनान) के हालात अभी भी सामान्य नहीं हो पाए हैं। यहां आम नागरिकों के बीच नकदी की समस्या बनी हुई है। देश पर कर्ज का बोझ भी लगातार बढ़ता जा रहा है। ग्रीस की माली हालत वर्तमान में कैसी है इसका अंदाजा महज इसी बात से लगाया जा सकता है कि यहां वेश्याओं तक की माली हालत बद से बदतर होती जा रही है। वेश्याओं का कहना है कि उनके पास जो ग्राहक आते हैं उनके पास पैसे ही नहीं हैं। एक महिला ने ऐसे ही एक अनुभव को साझा करते हुए बताया कि राजधानी एथेंस की सेंट्रल एथेंस स्थित एक इमारत की संकरे रूम में एक ग्राहक आया। 22 साल की एलिना ने उसे देखा तो अपना कोट और खड़ी हो गईं। यह कहना है कि 59 साल एवगिलिना का, जो ग्राहक और वेश्याओं के बीच बिचौलिए का काम करती हैं।

एवगिलिना ने बताया कि जब ग्राहक आया तो मैंने उसे ग्रीक भाषा में बताया कि उसके पास जो लड़की है उसमे कोई कमी नहीं है। बिना किसी संदेह के ग्राहक से मुलाकात कराई और बताया कि वो बिस्तर पर उसके साथ सबकुछ कर सकती है। इसपर चश्मा बिना उतारे अधेड़ उम्र के उस शख्स ने एलिना की ठोड़ी को रगड़ा और आंखों की तरफ देखा। क्योंकि उसने अपने बंधे हुए भूरे बाल खोल दिए थे। आखिर में ग्राहक ने कहा, ‘ठीक… यह ठीक है।’ ग्राहक ने कहा, ‘फीस?’ जवाब मिला बीस यूरो, करीब 23 डॉलर (करीब 1700 रुपए)। एवगिलिना ने बताया कि मैं एक छोटे से सोफे पर थोड़ी दूर बैठी थी। ये जगह वेश्यालय के अंदर ही है। यह पिछले एक सदी से एथेंस की वेश्याओं का घर रहा है।

यहां इतनी कम फीस होने पर एवगिलिना कहती हैं कि ग्रीस पिछले एक दशक से आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। यहां नगदी का संकट है। अर्थव्यवस्था तबाह हो गई है। इससे हजारों की तादाद में प्रवासी इस पेशे में आ गए हैं। महिलाएं भी खासतौर पर इस पेशे में आ गई हैं। ऐसे में वेश्याओं की फीस बहुत कम हो गई है। साल 2012 में यहां एक ग्राहक को वेश्या के लिए औसतम 39 यूरो का भुगतान करना होता था। अबतक 2017 में घटकर यह 17 यूरो तक आ गया। ये बताया है वेश्यालय चलाने वाली मिस लोजा ने। लोजा के मुताबिक देश में मंदी की वजह से इस व्यापार में 56 फीसदी तक मंदी आ गई है।

ऐसी ही एक महिला अपनी आपबीती सुनाते हुए कहती हैं कि 18 साल तक मेरे पास वेश्याखाना था। मगर मजबूरी में अब इस पेशे से बाहर हूं।  डिमित्रा कहती हैं, एक अधेड़ उम्र की महिला, जो खुशी यह पेसा छोड़कर नहीं आई हैं। डिमित्रा कहती हैं कि आर्थिक तंगी की वजह से अपना वेश्याखाना छोड़ना पड़ा। मैं भी अब वेश्या बन गई हूं।

बता दें कि ग्रीस में पंजीकृत वेश्यालयों में वेश्यावृति को कानूनी रूप से मान्यता मिली हुई है। यहां एथेंस में सैकड़ों की तादाद में वेश्यालय हैं। हालांकि स्ट्रीट वेश्यावृति यहां गैर कानूनी है। मगर फिर भी कुछ वेश्याओं इसी तरह काम करती है। यहां कई महिलाएं व्यावसायिक आवश्यकता से पेशे में इस प्रवेश करती हैं, वहीं कुछ को यौन उत्पीड़न में तस्करी कर या मजबूरी में लाया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 OMG!! मकड़ी मारने के चक्कर में पूरे घर में लगा दी आग
2 गजब की ठगी: सफेद घोड़े को काले से रंगा और 17.5 लाख में बेच दिया, 8 पर केस
3 वायरल वीडियो: कोबरा के सिर से निकली रोशनी, जिसने भी देखा रह गया दंग
जस्‍ट नाउ
X