ताज़ा खबर
 

इस लड़के ने मां-बाप को कोर्ट में घसीटा, कहा- मुझसे बिना पूछे कैसे मुझे दे दिया जन्‍म

सबसे पहले आपको बता दें कि 'एंटीनेटलिज्म' को कुछ लोग एक विचार मानते हैं और इस विचार का समर्थन करने वाले लोगों का मानना है कि जिंदगी में बहुत परेशानियां हैं इसलिए लोगों को बच्चे नहीं पैदा करना चाहिए।

रफाइल सैम्यूल की मां ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। फोटो सोर्स – @Raphael Samuel

मां-बाप ने बिना उसकी मर्जी के उसे जन्म क्यों दिया? इस बात को लेकर एक लड़का अपने मां-बाप को कोर्ट में घसीटना चाहता है। मुंबई के रहने वाले रफाइल सैम्यूल अपने मां-बाप पर उन्हें उनकी मर्जी के बिना जन्म देने के लिए केस करने जा रहे हैं। मुंबई के रहने वाले रफाइल सैम्युल ‘एंटीनेटलिज्म’ के समर्थक हैं। सबसे पहले आपको बता दें कि ‘एंटीनेटलिज्म’ को कुछ लोग एक विचार मानते हैं और इस विचार का समर्थन करने वाले लोगों का मानना है कि जिंदगी में बहुत परेशानियां हैं इसलिए लोगों को बच्चे नहीं पैदा करना चाहिए।

न्यूज वेबसाइट ‘गार्जियन’ के मुताबिक सैम्यूल ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए लिखा कि वो अपने माता-पिता से प्यार करते है लेकिन उनलोगों ने उन्हें दुनिया में सिर्फ इसलिए लाया ताकि उन्हें खुशी मिल सके। हालांकि ऐसा लगता है कि अब इस पोस्ट को डिलीट कर दिया गया है। लेकिन ‘एंटीनेटलिज्म’ से संबंधित कुछ अन्य पोस्ट यहां मौजूद हैं जिसमें लिखा गया है कि ‘मैं क्यों परेशानियां उठाऊं, मेरा काम करना क्यों जरुरी है?

‘Latestly’ से बातचीत करते हुए सैम्यूल ने कहा कि ‘प्रसव इस दुनिया में सबसे बुरी चीज है। किसी से पूछिए बच्चा क्यों चाहती हैं…तो वो कहेंगी कि मैं चाहती हूं…दुनिया में एक ऐसे बच्चे को लाना जिसे मुश्किलों का सामना करना पड़े गलत है। ‘एंटीनेटलिज्म’ का सिद्धांत लोगों को प्रजनन करने से रोकता है क्योंकि जिंदगी में कई सारी परेशानियां हैं।’

इधर रफाइल सैम्यूल के इस कदम के बाद उनकी मां ने भी इसपर जवाब दिया है। रफाइल सैम्यूल ने अपनी मां के जवाब को एक पोस्ट के जरिए बताया है। इसमें लिखा गया है कि – ‘मैं राफेल की मां और यह मेरी प्रतिक्रिया है बेटे की उस बात पर जिसे लेकर उथल-पुथल मचा है। सबसे पहले मैं अपने बेटे की इस बात पर प्रशंसा करना चाहती हूं कि यह जानते हुए भी कि हम दोनों वकील हैं वो हमें कोर्ट में घसीटना चाहता है। अगर कोर्ट में सैम्युल तर्कसंगत तरीके से अपनी बात को रखने में कामयाब हो जाता है तो मैं अपनी गलती स्वीकार कर लूंगी।’ अपने पोस्ट में सैम्यूल की मां ने अपने बेटे की प्रशंसा भी की है और लिखा है कि उन्हें खुशी है कि वो डरता नहीं है और आजाद सोच रखने वाला युवा है। उम्मीद है कि एक दिन जरुर उसे उसकी खुशी का रास्ता मिल जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App