ताज़ा खबर
 

संबंध बनाने से पहले मादाओं का मूत्र चखते हैं नर जिराफ, बेहद अजीब है इनके मेटिंग का तरीका

बता दें कि जिराफ ज्यादातर अफ्रीका के जंगलों में पाए जाते हैं। इस शाकाहारी पशु की विशेषता यह है कि इसे थल पर रहने वाले जीवों में सबसे ऊंचा प्राणी होने का दर्ज हासिल है।

जिराफ अफ्रीका की जंगलों में ज्यादा पाए जाते हैं।

पृथ्वी पर कई ऐस जीव-जंतु हैं जिनके बारे में जीव वैज्ञानिकों ने गहन अध्ययन कर कई चौंकाने वाले तथ्य उजागर किए हैं। लंबी गर्दन वाला जानवर जिराफ भी इसी श्रेणी में आता है। इस जानवर की सेक्स लाइफ अजीबोगरीब होती है। यह जानवर अक्सर मेटिंग से पहले मादा जिराफ के मूत्र को चखते हैं। जी हां, जिराफ के बारे में चौंकाने वाले यह तथ्य गहन रिसर्च का ही परिणाम है। मूत्र का जिराफ के सेक्स लाइफ से सीधा संबंध है। दरअसल नर जिराफ, मादा जिराफ के मूत्र को चख कर यह तय करता है कि वो उसके साथ संभोग करने के लायक है भी या नहीं।

नर जिराफ के आने पर जब मादा जिराफ मूत्र त्याग करती है तो नर जिराफ मूत्र को चख कर सेक्स को लेकर अपनी राय बनाता है। कई बार तो मादा साथी के चयन से पहले नर जिराफ कई मादाओं के पेशाब को चखता है। जिराफ मूत्र से ही अपने साथी का चुनाव करते हैं। हालांकि इस जानवर को लेकर यह भी देखा गया है कि कई बार नर जिराफ मादा के पास नहीं जाते बल्कि अगर मादा, नर में रुचि रखती है तो वो खुद भी नर जिराफ के पास आकर अपना मूत्र त्यागती है ताकि नर जिराफ उसे चख कर मेटिंग कर सके। मादा जिराफ का गर्भकाल 400 से 600 दिनों तक का हो सकता है।

बता दें कि जिराफ ज्यादातर अफ्रीका के जंगलों में पाए जाते हैं। इस शाकाहारी पशु की विशेषता यह है कि इसे थल पर रहने वाले जीवों में सबसे ऊंचा प्राणी होने का दर्ज हासिल है। कुछ जिराफ ऐसे भी पाए गए हैं जिनकी गर्दन 6 फुट लंबी थी। जिराफों को कुछ दिनों में सिर्फ एक बार पानी पीने की जरुरत पड़ती है क्योंकि उनकी पानी की ज्यादातर जरुरत उनके भोजन से पूरी हो जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App