ताज़ा खबर
 

महि‍ला ने समलैंगि‍क पुरुष का कि‍या ‘रेप’, ‘पीड़ित बोला’, हो जाती जेल अगर…

मैक्गोवन ने कहा कि अपराध के हिसाब से महिला को कड़ी सजा नहीं दी गई। मई 2015 में हुई हाउस पार्टी में उस पर हुए हमले से उसकी जिंदगी प्रभावित हुई है।
स्कॉटलैंड के ग्लासगो में साल 2015 में महिला द्वारा सेक्सुअल असॉल्ट का शिकार हुए फ्रैंक मैक्गोवन। (फाइल फोटो)

सेक्सुअल असॉल्ट का शिकार समलैंगिक भी होते हैं। स्कॉटलैंड में दो साल पहले ऐसी ही एक घटना घटी थी। उसमें एक समलैंगिक शख्स पर महिला ने सेक्सुअल असॉल्ट किया था। मगर नियम-कानून के चलते आरोपी महिला को कड़ी सजा नहीं हुई थी। पीड़ित समलैंगिक ने इसी को लेकर स्थानीय मीडिया से अपना दर्द और आपबीती साझा की। यहां ग्लासगो में रहने वाले समलैंगिक फ्रैंक मैक्गोवन (36) इस घटना के बाद खुदकुशी करने तक की सोच रहे थे। वह ट्रॉमा झेल रहे थे। उनके मुताबिक, पार्टी में चेरिल कॉट्रेल (30) ने उनका रेप किया। जब महिला को पता चला कि वह समलैंगिक हैं, तो वह उनके लिए घिनौनी टिप्पणियां करने लगी। पहले तो उसने उन्हें हमबिस्तर होने के लिए कहा।

मैक्गोवन ने जब इस पर एतराज जताया तो वह भी उन पर हावी हो गई। उसने रसोईघर तक उनका पीछा किया और वहां उन्हें सेक्सुअली असॉल्ट किया। सेक्सुअल असॉल्ट के आरोप में महिला को सजा के तौर पर पांच दिनों के लिए सामुदायिक सेवा में लगाया गया और उसका नाम सेक्स अपराधियों की सूची में दर्ज किया गया। स्कॉटिश कानून के तहत रेप क्राइसिस स्कॉटलैंड कहता है कि सेक्सुअल असॉल्ट के दौरान अंगुलियों का इस्तेमाल करना रेप नहीं माना जाता है।

पीड़ित समलैंगिक ने कहा कि अपराध के हिसाब से महिला को कड़ी सजा नहीं दी गई। मई 2015 में हुई हाउस पार्टी में उस पर हुए हमले से उसकी जिंदगी प्रभावित हुई है। पार्टनर के साथ रिलेशन भी टूट गया। उसे तब अपने घर जाने को कह दिया गया था, जिसने उसे काफी झकझोरा था। यही कारण था कि वह एक वक्त में खुदकुशी के बारे में तक सोचने लगा था। कई दिनों तक तो वह डर की वजह से बिस्तर से ही नहीं उठ सके। अभी भी खाली-खाली सा, निराशाजनक और परेशानी महसूस करते हैं। उन्हें लगता है जैसे वह ही दुनिया में इस तरह की हिंसा झेलने वाले शख्स हैं।

घटना के बारे में बताते हुए पीड़ित ने कहा कि उन्हें विश्वास ही नहीं हुआ कि तब क्या हो रहा था। उनके लिए वह बेहद बर्बर और दर्दनाक सेक्सुअल असॉल्ट था। उनके शरीर से खून तक निकल रहा था और उन्हें  लग रहा था, जैसे वह महिला उनका रेप कर रही हो। कॉट्रेल अगस्त में गलती कबूलने से मुकर गई थी। लेकिन ग्लासगो की शेरिफ कोर्ट में उसे ट्रायल के बाद दोषी पाया गया। सेक्स अपराधियों के रजिस्टर में उसका नाम दर्ज कर पांच दिनों के लिए सामुदायिक सेवा में लगा दिया गया। पीड़ित मैक्गोवन के मुताबिक, आरोपी महिला को जो सजा दी गई, वह हास्यास्पद है। उनसे कहा गया था कि अगर कोई पुरुष यही चीज किसी महिला से करता, तो उसे पांच साल तक जेल में सजा काटनी पड़ती।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.