ताज़ा खबर
 

कुएं में कुत्ते के पिल्लों के चारों ओर कुंडली मारकर बैठा अजगर कर रहा था रक्षा, देखकर फटी रह गई लोगों की आंखें

हालांकि गैर जहरीला, रॉक पाइथन बाइट (काटने) के साथ बड़े पशुओं और मनुष्यों को घायल कर सकते हैं। यह आमतौर पर बड़े चूहों, पक्षियों और मेंढ़कों का शिकार करता है।

कुत्ते के बच्चों की रक्षा कर रहा था पाइथन। (Representative Image)

गुजरात के वडोदरा में शनिवार को जो देखने को मिला उसे देखकर लोग हैरान रह गए हैं। वडोदरा के कंडारी गांव में फीमेल डॉग के कुछ बच्चे कुएं में गिर गए, जिसके बाद लोगों ने इस बात की जानकारी पशु कार्यकर्ताओं को दी। उन्हें बचाने के लिए जब मौके पर बचाव दल पहुंचा तो देखा उसे देखकर उन्हें अपनी आंखों पर विश्वास नहीं हुआ। बचाव दल के सदस्यों ने देखा कि 6 हफ्ते के कुत्ते के बच्चे 6 फुट लंबे रॉक पाइथन के बगल में आराम कर रहे थे।

पशु कार्यकर्ता नेहा पटेल ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा कि कुछ लोगों द्वारा हमें फोन करके जानकारी दी गई थी कुछ पिल्लें 70 फुट गहरे कुएं में गर गए है। उन्हें बचाने के लिए जब हमारे बचाव दल का एक शख्स रस्सी के सहारे नीचे उतरा तो देखा कि कुएं के अंदर पिल्ले एक कोने में सो रहे हैं। वहीं पर एक अजगर भी मौजद थी जो कि उनको आसानी से शिकार बना सकता था लेकिन वह उन्हें कवर करके बैठे था। यह अजगर की ओर से किया असामान्य व्यवहार था। उन्होंने बताया कि पिल्लों को कुएं से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। बाद में अजगर को भी बचाया गया। हालांकि गैर जहरीला, रॉक पाइथन बाइट (काटने) के साथ बड़े पशुओं और मनुष्यों को घायल कर सकते हैं। यह आमतौर पर बड़े चूहों, पक्षियों और मेंढ़कों का शिकार करता है।

बचाव के दल के दूसरे सदस्य अनिल गोहिल ने बताया कि पाइथनस पिल्लों से खतरा महसूस करके आसानी से उन्हें चारों ओर से घेरकर सकता था और उन्हें अपने शरीर से घोटकर मार सकता था, लेकिन कुत्ते के बच्चों और पाइथन के बीच असामान्य रिश्ता बन गया था। जिसके कारण दोनों एक-दूसरे की रक्षा कर रहे थे।

वीडियो: 40 दिनों के अभियान के बाद मारी गई आदमखोर बाघिन; 1 करोड़ का हुआ खर्च

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App