ताज़ा खबर
 

शिकार के दौरान दूध बेचने वाली को दिल दे बैठा था यह शासक और फिर…

यह किस्सा 1354 के आस-पास का है। तब तुगलक राजा की ताजपोशी नहीं हुई थी। वह राजकुमार थे। शिकार करने...

राजाओं के रंगीन मिजाज के आज भी चर्चे होते हैं। कभी वे हमाम में रानियों संग स्नान करते। किसी मौके पर उनके लिए महल खड़े करा देते। ऐसा ही किस्सा है दिल्ली सल्तनत के एक शासक का। उन्हें एक नजर में दूध बेचने वाली लड़की से प्यार हो गया था। बाद में उसे अपनी रानी बनाया। वह उन्हें इतना चाहते थे कि उनके लिए हरियाणा में महल बनवा दिया था। यह किस्सा 1354 के आस-पास का है। तब तुगलक राजा की ताजपोशी नहीं हुई थी।

वह राजकुमार थे। शिकार करने के शौकीन थे। जंगलों में भटकते हुए खूब वक्त बिताते। बीच में एक छोटी सी बस्ती थी। वहां वे लोग रहते थे, जो कई जगहों से उजड़े हुए थे। यहीं पर गुजरी नाम की लड़की रोज आती थी। वह तब अपनी जीविका के लिए दूध बेचती थी। राजा भी एक दिन शिकार पर निकले हुए थे। अचानक एक दिन उनकी मुलाकात वहां उससे हुई। वह एक नजर में ही उन्हें पसंद आ गई और उन्हें उससे प्यार हो गया।

फिर क्या था, राजा उसके मिलने के चक्कर में रोज वहां पहुंचने लगे। बाद में वह उनकी पत्नी बनी। राजा ने जब उससे दिल्ली में अपने राज राजगद्दी पर बैठने के लिए पूछा था, तो उसने मना कर दिया। ऐसे में राजा ने उसके लिए दूसरा बंदोबस्त किया। हिसार में उन्होंने उसके लिए खुद का महल तैयार कराया। 1354 में इसे बनावाना शुरू किया गया, जो दो साल में पूरा हुआ। आज भी वह रानी का महल यहां फिरोज शाह महल परिसर के भीतर ही है। यूं कहिए वह उसका हिस्सा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ये थी जिंदा ड्रैकुला, 600 कुंवारी लड़कियों के खून से नहाने का था शौक
2 नन्ही उम्र से लड़कियों को गले में यहां क्यों पहनाए जाते हैं 10 किलो वजनी छल्ले?
3 नग्न होकर प्रजा से मिलने वाला इस राजा को था प्लेन-कारों का शौक, जानिए कैसे करता था अय्याशी