ताज़ा खबर
 

यहां कर्ज चुकाने में नाकाम लोगों को सिनेमा हॉल में यूं किया जाता है शर्मसार

पीपल्स कोर्ट ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म वीबो पर इस घटना से जुड़ा एक वीडियो भी पोस्ट किया है, जिसमें कुछ ऐसी ही क्लिप सिनेमा हॉल में चलती दिख रही थी।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

फर्ज कीजिए, आप परिवार के साथ फिल्म देखने गए हों। लेकिन स्क्रीन पर आपका फोटो और नाम नजर आने लगे। वह भी गलत कारणों के लिए, तो आपको कैसा लगेगा? हाल ही में कुछ ऐसा ही नजारा चीन में देखने को मिला। यहां पर सिनेमा हॉल्स में कर्ज चुकाने में नाकाम रहे लोगों का फोटो और नाम स्क्रीन पर दिखाकर उन्हें शर्मसार किया जाता है। यह तरीका यहां इसलिए भी अपनाया जा रहा है, ताकि इन लोगों से कर्ज के पैसे वापस वसूले जा सकें।

मामला हेइजांग शहर में जुड़ा हुआ है। कानूनी मामलों में लोग जब अपना कर्ज नहीं चुका पाए, तब स्थानीय कोर्ट को दखल देते हुए यह अनोखा कदम उठाना पड़ा। कोर्ट के निर्देश पर यहां ‘रील ऑफ शेम’ नाम की मुहिम शुरू की गई, जिसका मकसद कर्ज की रकम वापस हासिल करना है। सिनेमा हॉल्स इस मुहिम के अंतर्गत फिल्म शुरू होने से पहले कुछ छोटी क्लिप्स दिखाते हैं। एनिमेटेड पात्र उसमें कहते दिखते हैं, “ये देखिए ‘लाओलाई’।” चीन में लाओलाई उसे कहते हैं, जो लिया हुआ सामान या पैसे लौटा नहीं पाता।

पीपल्स कोर्ट ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म वीबो पर इस घटना से जुड़ा एक वीडियो भी पोस्ट किया है, जिसमें कुछ ऐसी ही क्लिप सिनेमा हॉल में चलती दिख रही थी। डेली मेल के अनुसार, 26 कर्जदारों के चेहरे और नाम एक सिनेमा हॉल में फिल्म के पहले चलने वाले ट्रेलर्स के रूप में दिखाए गए थे। स्थानीय सिनेमा हॉल में रोजाना तकरीबन 30 फिल्मों की स्क्रीनिंग होती है।

प्रवर्तन निदेशक ली क्वांग ने इस बारे में बताया, “खुले आम कर्जदारों को शर्मसार करना आम हो चुका है। सिनेमाल हॉल्स में उनका फोटो और नाम दिखाना इसी क्रम में उठाया गया कदम है।” सिनेमा हॉल्स के अलावा कर्जदारों के फोटो और नाम बसों और आउटडोर स्क्रीन्स पर भी यहां दिखाए जाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App