ताज़ा खबर
 

OMG! 24 अंगुलियों के साथ जी रहा शख्स, परिवार से ही है जान का खतरा

रिश्तेदारों की तरफ से बेटे को जान से मारने की धमकी देने के बाद थानॆ में रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंचे उसके पिता को पुलिस ने मदद का पूरा भरोसा दिलाया है। इलाके के सर्किल ऑफिसर उमाशंकर सिंह ने कहा है कि काफी गरीब होने की वजह से फुन्नीलाल अपने बेटे को पढ़ा पाने में सक्षम नहीं हैं इसलिए वो खुद बच्चे की पढ़ाई का खर्च उठाएंगे।

24 अंगुलियां होने की वजह से शिवानंदन को जान से मारने की धमकी मिल रही है। फोटो सोर्स – (ANI)

उत्तर प्रदेश के कानपुर में रहने वाले एक शख्स ने पुलिस वालों से गुहार लगाई है कि उनके रिश्तेदार उनके बेटे की बलि चढ़ाना चाहते हैं। बाराबंकी जिले के गुरी गांव के रहने वाले फुन्नीलाल ने रिश्तेदारों से धमकी मिलने के बाद दहशत में आकर अपने बेटे शिवानंदन को स्कूल भेजना बंद कर दिया है। इतना ही नहीं बेटे के साथ कुछ अनहोनी ना हो जाए इसलिए वो खुद भी सारा काम-धाम छोड़ दिन भर घर पर ही बैठे रहते हैं। दरअसल फुन्नीलाल के बेटे शिवानंदन को जन्म से ही दोनों हाथों और पैरों में छह-छह अंगुलिया हैं। सामान्य तौर पर लोगों के दोनों हाथों में 10 अंगुलियां और पैरों में 10 अंगुलियां होती हैं लेकिन दोनों हाथों और पैरों में छह-छह अंगुलियां होने की वजह से शिवानंदन को कुल 24 अंगुलियां हैं।

आम इंसान से शरीरीक बनावट में थोड़ा अलग होने की वजह से शिवानंदन के रिश्तेदारों को तांत्रिकों ने सलाह दी है कि अगर वो शिवानंदन की बलि चढ़ाते हैं तो वो धनी हो जाएंगे। घर के ही एक रिश्तेदार का कहना है कि 24 अंगुलियां होने की वजह से एक दिन शिवानंदन के कुछ रिश्तेदार उसे लेकर एक बगीचे में गए और वहां 5 लोगों ने बैठकर पूजा-अनुष्ठान भी किया। लेकिन किस्मत से जिस दिन शिवानंदन के साथ यह प्रपंच किया जा रहा था वो दिन शुक्रवार था।

पूजा-अनुष्ठान कर रहे लोगों ने कहा कि शिवानंदन की बलि देने का शुभ मुहुर्त गुरुवार है लिहाजा वो गुरुवार को ही उसकी बलि देंगे। इसके बाद वो शिवानंदन को उसके घर पर वापस छोड़ गए तथा परिवार वालों को धमकी दी कि वो उनके बेटे की बलि चढ़ाएंगे। रिश्तेदारों की तरफ से बेटे को जान से मारने की धमकी देने के बाद थानॆ में रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंचे उसके पिता को पुलिस ने मदद का पूरा भरोसा दिलाया है।

इलाके के सर्किल ऑफिसर उमाशंकर सिंह ने कहा है कि काफी गरीब होने की वजह से फुन्नीलाल अपने बेटे को पढ़ा पाने में सक्षम नहीं हैं इसलिए वो खुद बच्चे की पढ़ाई का खर्च उठाएंगे। पुलिस का कहना है कि इस मामले की छानबीन शुरू कर दी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App