ताज़ा खबर
 

लड़कियों के लिए बेहद खास है यह स्कूल, पढ़ाई के साथ शादी का भी रखा जाता है ख्याल

आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसे स्कूल के बारे में जहां ना सिर्फ लड़कियों को पढ़ाया जाता है बल्कि पढ़ाई के बाद उनकी शादी का भी ख्याल रखा जाता है।

इस स्कूल को 1954 में खोला गया था, जिसका मकसद विकलांग लड़कियों को शिक्षा देने के साथ-साथ आत्मनिर्भर बनाना है।(फोटो सोर्स- यू-ट्यूब)

लड़कियों की शिक्षा को लेकर अक्सर बहस होती है। भारत में लड़कों की तरह ही लड़कियों को भी शिक्षा मिलें। लेकिन आज भी कुछ लोग ऐसे हैं जो लड़कियों के लिए शिक्षित होना जरूरी नहीं समझते। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसे स्कूल के बारे में जहां ना सिर्फ लड़कियों को पढ़ाया जाता है बल्कि पढ़ाई के बाद उनकी शादी का भी ख्याल रखा जाता है। गुजरात के अहमदाबाद में स्थित इस स्कूल का नाम अंध कन्या प्रकाश गृह है। इस स्कूल को 1954 में खोला गया था, जिसका मकसद विकलांग लड़कियों को शिक्षा देने के साथ-साथ आत्मनिर्भर बनाना है। इस स्कूल की जब शुरुआत की गई तो यहां पढ़ने वाली लड़कियों की संख्या केवल चार थी। लेकिन समय के साथ इनकी संख्या में बढ़ोत्तरी होती गई। आज यहां लड़कियों की काफी संख्या कुछ करने का जुनून लेकर पढ़ रही हैं।

बता दें कि इस स्कूल में पढ़ने वाली लड़कियां पढ़ाई के साथ-साथ चिक्की, दिवाली के दीये और दूसरे हाथ से बने प्रोडक्ट भी बनाती हैं। जिससे मार्केट से उन्हें पैसे भी मिलते हैं। इसके अलावा इन लड़कियों की शिक्षा पूरा होने के बाद अंध कन्या प्रकाश गृह ही इनके योग्य कोई लड़का ढूढ़कर इनकी शादी भी कराती हैं।

यहां पढ़ाई करने वाली लड़कियों का टैलेंट देखकर आप भी हैरान रह जाएंगे। ये लड़कियां अंग्रेजी फर्राटेदार बोलती हैं। इसके साथ ही वह खुद को आम लड़कियों की तरह ही हर कॉम्पिटिशन के लिए खुद को तैयार करती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App