इन एंड्रॉयड फोन पर नहीं चलेगा YouTube, Gmail, Google Maps व Play Store, बैन होगा गूगल एकाउंट

Google Android 12 लॉन्च करने के लिए पूरी तरह तैयार है। गूगल ने कहा है कि कुछ फोन पर यूट्यूब, जीमेल, गूगल मैप व प्‍ले स्‍टोर जैसे फीचर बंद कर दिया जाएगा। इस साल की शुरुआत में, Google ने खुलासा किया कि उसके पास तीन अरब से अधिक सक्रिय Android डिवाइस हैं, जिनमें स्मार्टफोन और टैबलेट शामिल हैं।

इन एंड्रॉइड फोन पर नहीं चलेगा YouTube, Gmail, Google Maps व Play Store, बैन होगा गूगल एकाउंट (File Photo)

Google Android 12 लॉन्च करने के लिए पूरी तरह तैयार है। गूगल ने कहा है कि कुछ फोन पर यूट्यूब, जीमेल, गूगल मैप व प्‍ले स्‍टोर जैसे फीचर बंद कर दिया जाएगा। इस साल की शुरुआत में, Google ने खुलासा किया कि उसके पास तीन अरब से अधिक सक्रिय Android डिवाइस हैं, जिनमें स्मार्टफोन और टैबलेट शामिल हैं। ये सभी डिवाइस एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम के विभिन्न संस्करण चला रहे हैं, जिंजरब्रेड जैसे पुराने संस्करणों से लेकर एंड्रॉयड 11 तक, जो पिछले सितंबर में जारी किया गया था।

गूगल कई उपयोगकर्ताओं के Google एकाउंट पर प्रतिबंध लगा रहा है, जिनके पास Android 2.3 समेत पुराने मॉडल हैं, जिन्हें Android जिंजरब्रेड भी कहा जाता है। इन मोबाइल फोन में गूगल एकाउंट पूरी तरह से प्रतिबंध हो जाएगा। यानी आप अगर ऐसे ही पुराने मॉडल व सॉफ्टवेयर वाले फोन चला रहे हो तो Google ने आपके लिए YouTube, Gmail, Google मैप्स ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है। यूट्यूब, जीमेल, गूगल मैप्स ऐप उस ओएस वर्जन पर चलने वाले सभी पुराने डिवाइस पर काम करना बंद कर देंगे।

यह भी पढ़ें: आज लॉन्‍च होगा Vivo X70 Pro व Vivo X70 Pro+, जानिए इसकी कीमत व फीचर्स
Google ने घोषणा की थी कि, 27 सितंबर से, संस्करण 2.3.7 और पुराने संस्करण पर चलने वाले Android उपकरणों को अब साइन इन करने की क्षमता नहीं दी जाएगी। Google की सेवाएं जैसे Google मैप्स, YouTube और Gmail सभी साइन-इन पर निर्भर हैं। Google खाता ठीक से काम कर रहा है, जिसका अर्थ है कि उपयोगकर्ता इन पुराने उपकरणों पर अब इन सेवाओं का उपयोग नहीं कर पाएंगे। उपयोगकर्ता अभी भी इन सेवाओं को अपने मोबाइल ब्राउज़र पर एक्सेस करने में सक्षम होंगे, लेकिन अपने डिवाइस पर मिलने वाली सुविधाओं नहीं पाएंगे।

Google ने यह भी कहा है कि वह इस पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए समर्थन को हटा रहा है क्योंकि यह प्लेटफॉर्म पर उपयोगकर्ताओं को सुरक्षित रखने के अपने चल रहे प्रयासों के तहत है। यदि कोई उपयोगकर्ता बहुत पुराने एंड्रॉइड 2.3 ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलने वाले अपने एंड्रॉइड स्मार्टफोन में लॉग इन करने का प्रयास करता है, तो उन्हें उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड से संबंधित एक त्रुटि दिखाई देगी। यहां तक ​​​​कि अगर वे फिर से विवरण दर्ज करने का प्रयास करते हैं, तो Google वही त्रुटि संदेश प्रदर्शित करेगा, और समस्या को ठीक करने का एकमात्र तरीका एंड्रॉइड के एक नए संस्करण में अपग्रेड करना होगा।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट