डाकघर की इस योजना में कर सकते हैं 1000 से लाखों रुपये तक का निवेश, हर महीने मिलता है पैसा

डाकघर मासिक आय योजना (पीओएमआईएस) की ब्याज दर अब 6.6% प्रति वर्ष है, जो मासिक देय है। कम से कम 1000 रुपया इसमें निवेश किया जा सकता है, जबकि अधिकतम आप 4.5 लाख से अधिक का भी निवेश कर सकते हैं।

डाकघर की इस योजना में कर सकते हैं 1000 से लाखों रुपये तक का निवेश, हर महीने मिलता है पैसा (File Photo)

डाकघर के तहत कई ऐसी योजनाएं हैं, जिसमें निवेश करके लोगों को फायदा मिल सकता है। डाकघर की हर दिन, महीने व वर्ष के निवेश के लिए आरडी योजना, सुकन्‍या समृधि योजना या फिर बचत खाता की योजनाएं हों, ये सभी निवेश का अच्‍छा माध्‍यम मानी जाती हैं और यह सबसे विश्‍वसनीय भी होती हैं। इन योजनओं में निवेश करने पर अलग -अलग ब्‍याज दर से लाभ मिलता है। ऐसी ही योजनओं में से एक डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) है।

इस योजना में आप एक निश्चित राशि का निवेश कर सकते हैं और आप एक निश्चित ब्याज भी ले सकते हैं, जिसकी गणना हर महीने के हिसाब से की जाती है। इस योजना के तहत आप अपनी छोटी-छोटी जरुरतों को भी पूरा कर सकते हैं, साथ ही यह आपको हर महीने धनरा‍शि देने के लिए उपयोगी है। इस योजना के तहत आप निवेश कर मासिक आय के तौर पर इसका उपयोग कर सकते हैं।

डाकघर मासिक आय योजना (पीओएमआईएस) की ब्याज दर अब 6.6% प्रति वर्ष है, जो मासिक देय है। कम से कम 1000 रुपया इसमें निवेश किया जा सकता है, जबकि अधिकतम आप 4.5 लाख से अधिक का भी निवेश कर सकते हैं। लेकिन वहीं अगर आपके पास संयुक्‍त खाता है तो आप 9 लाख तक का निवेश कर सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत मासिक ब्‍याज किसी भी सीबीएस डाकघर में बचत खाते में जमा किया जा सकता है।

इसमें 5 वर्ष की लॉक-इन अवधि दी जाती है और 1 वर्ष से पहले आप अपनी जमा राशि वापस नहीं ले सकते। हालाकि खाता 1 वर्ष के बाद और 3 वर्ष से पहले बंद हो जाता है, तो मूलधन से 2% की कटौती कर ली जाती है और शेष राशि का भुगतान किया जाएगा। यदि आप 3 साल बाद और 5 साल से पहले खाता बंद करते हैं, तो मूलधन से 1% की कटौती की जाएगी। पूर्ण निवेश से पहले अगर खाताधारक की मृत्यु हो जाती है, तो खाता बंद किया जा सकता है और राशि नामांकित परिवार के सदस्‍य को दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: LIC की इस स्‍कीम में एक बार लगाएं पैसा और जीवनभर घर बैठे उठाएं पेंशन का लाभ

डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) के लिए खाता आसानी से खोला जा सकता है। इस योजना के तहत 10 साल से उपर का नाबालिग भी खाता खोल सकता है। इस योजना में खाता खोलने के लिए डाकघर की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर फॉर्म भरना होगा या आप नजदीकी डाकघर में जाकर भी खाता खोल सकते हैं।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट