scorecardresearch

PAN Card अपडेट करने के लिए महिला ने लिंक पर किया क्लिक, अकाउंट से गायब हो गए 1.24 लाख रुपए; अपने पैन को ऐसे रखें सेफ

PAN Card Safe Tips: महाराष्‍ट्र से एक और पैन कार्ड पर फ्रॉड का मामला सामने आया है। एक 37 साल की महिला टीचर, जो अंधेरी में रहती हैं , के साथ 1.24 लाख रुपए की ठगी हुई है।

PAN Card अपडेट करने के लिए महिला ने लिंक पर किया क्लिक, अकाउंट से गायब हो गए 1.24 लाख रुपए; अपने पैन को ऐसे रखें सेफ
PAN Card को कैसे रख सकते हैं सुरक्षित (फोटो-@Trinkerr_IN/Twitter)

पैन कार्ड को लेकर पहले भी कई फ्रॉड के मामले सामने आ चुके हैं, यहां तक कि पिछले दिनों वॉलीबुड अभिनेता राजकुमार राव के पैन कार्ड पर भी लोन लेने का मामला सामने आ चुका है। वहीं अब महाराष्‍ट्र से एक और पैन कार्ड पर फ्रॉड का मामला सामने आया है। एक 37 साल की महिला टीचर, जो अंधेरी में रहती हैं , के साथ 1.24 लाख रुपए की ठगी हुई है।

शिक्षिका के मोबाइल पर पैन कार्ड को अपडेट करने के लिए लिंक आया था, जिसपर टीचर ने क्लिक करके प्रॉसेस को फॉलो किया था। उसके बाद इनके खाते से 1.24 लाख रुपए साइबर अपराधों द्वारा चोरी कर लिए गए। पीड़िता उर्वशी फेटिया ने पुलिस को जानकारी देते हुए बताया कि उनका बैंक खाते का लिंक, साइबर ठगों की ओर से SMS में था।

अंधेरी पुलिस स्टेशन के एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि जैसे ही उसने लिंक खोला, उसे अपने मोबाइल फोन पर एक वन-टाइम पासवर्ड (OTP) मिला, जिसे उसने SMS में दिए गए निर्देश के अनुसार दर्ज किया। महिला ने कहा कि ओटीपी दर्ज करने के बाद उसे तीन और ओटीपी मिले। पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी कि जैसे ही उसने ओटीपी दर्ज की, उसके बैंक खातों से एसएमएस प्राप्त करने के पांच मिनट के भीतर 1.24 लाख की रकम तीन ट्रांजैक्‍शन में विड्राल हो गई।

पुलिस ने बताया कि इतने जल्‍दी-जल्‍दी तीन ट्रांजैक्‍शन के बाद बैंक से महिला टीचर के पास फोन आया कि क्‍या उन्‍होंने यह पैसे की निकासी की है। इसके बाद ही जानकारी हो पाई कि उनके साथ साइबर ठगी हुई है। इसके बाद पीड़‍ित महिला ने पुलिस को जानकारी दी और थाने में फ्रॉड का मामला दर्ज करवाया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि हम उस नंबर पर नज़र रख रहे हैं, जिससे शिकायतकर्ता को एसएमएस और लिंक मिला था।

कैसे हुआ फ्रॉड

अधिकारी ने स्‍पष्‍ट करते हुए कहा कि जब उसने लिंक पर क्लिक किया, तो उसने कुछ मिररिंग एप्लिकेशन के माध्यम से धोखाधड़ी को उसके फोन की पूरी पहुंच प्रदान की और फिर उन्होंने लेनदेन किया और ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन को पूरा करने के लिए आवश्यक ओटीपी भी प्राप्त किया या शायद धोखाधड़ी ने उसे एक Google दस्तावेज़ भेजा, जिससे अपराधी को मोबाइल तक पहुंच बनाने में मदद‍ मिली। अंधेरी पुलिस अब अपराधियों का पता लगाने के लिए साइबर पुलिस की मदद ले रही है।

अपने पैन कार्ड को कैसे रखें सेफ

अगर आप भी अपने पैन कार्ड को सुरक्षित रखना चाहते हैं और ठगी से बचना चाहते हैं तो यहां बताए गए तरीके से आप अपने पैन कार्ड को सेफ रख सकते हैं।

  • अपने पैन कार्ड का उपयोग वहीं करें जहां अनिवार्य हो। ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, आधार कार्ड और अन्य वैध दस्तावेज हैं, जिसमें धोखाधड़ी के मामले कम आते हैं।
  • सार्वजनिक रूप से या असुरक्षित ऑनलाइन पोर्टल पर जन्मतिथि या पूर्ण नाम का विवरण न भरें। इन विवरणों का उपयोग आयकर वेबसाइट पर आपके पैन नंबर का गलत इस्‍तेमाल किया जा सकता है।
  • अपने पैन कार्ड की मूल और फोटोकॉपी सुरक्षित रखें। दस्तावेज जमा करते समय तारीख अपने हस्ताक्षर के साथ लगाएं। उन जगहों पर नज़र रखें जहां आपने अपने पैन कार्ड की भौतिक फोटोकॉपी जमा की है।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट