ताज़ा खबर
 

जानिए, टीवी के पीछे किस रंग के सॉकेट का है क्‍या काम

आजकल लोग टीवी को मीडिया डिवाइस से कनेक्ट करते हैं। ऐसे में उनका पाला कई तरह की केबल्स के सॉकेट्स से सामना होता है। यहीं पर वे परेशान हो जाते हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः pixabay)

टीवी को अक्सर लोग मीडिया डिवाइस से कनेक्ट करते हैं। लेकिन इस दौरान उनका एक दिक्कत से सामना होता है। वे टीवी के पीछे ढेर सारे दिए गए केबल सॉकेट्स को देखकर भ्रमित रह जाते हैं। वे समझ नहीं पाते कि आखिर कौन सा सॉकेट किस काम के लिए है। ऊपर से उनके अलग-अलग रंग भी दिए गए होते हैं। चूंकि, आजकल लोग टीवी को नेटफ्लिक्स, रोकू, एक्स बॉक्स, प्ले स्टेशन, होम थियेटर, डीवीडी प्लेयर, सीडी प्लेयर और अन्य मीडिया डिवाइस से कनेक्ट करते हैं। ऐसे में उन्हें कई तरह की केबल्स को टीवी से कनेक्ट करना पड़ता है। यहीं पर वे ढेर सारे सॉकेट्स देख कर परेशान हो जाते हैं। हालांकि, सॉकेट्स के ऊपर या आसपास उनसे जुड़ी जानकारी शॉर्ट में लिखी होती है। मगर जरूरी नहीं कि हर टीवी के पीछे वह लिखी ही हो। ऐसे में सॉकेट में फर्क करना मुश्किल हो जाता है। अगर आपका पाला भी इस तरह की दिक्कत से हुआ है, तो परेशान न हों। केबल सॉकेट और उनसे जुड़े फीचर के बारे में आज हम आपको बताएंगे।

ऑडियो-वीडियो वायर
1- कंपोनेंट वीडियो केबल – यह केबल टीवी तक कलर सिग्नल पहुंचाती है। क्लियर और साफ तस्वीरें इसी के कारण हम देख पाते हैं। ये तीन अलग-अलग रंगों की होती हैं, जिनमें लाल, नीला/पीला और हरा होता है।

2- आरसीए केबल्स – आरसीए केबल्स भी कंपोनेंट केबल के तौर पर जानी जाती हैं। चूंकि ये वीडियो सिग्नल के साथ ऑडियो सिग्नल भी टीवी तक पहुंचाती हैं। दिखने में भी ये भी कंपोनेट केबल जैसी होती हैं। फर्क सिर्फ कुछ रंगों का होता है।

3- एस-वीडियो केबल – यह केबल सुपर वीडियो के नाम से भी जानी जाती है। ये टीवी से दूसरी डिवाइस के बीच वीडियो सिग्नल को ट्रांसफर करती है। यूं समझें कि कि ये कंपोनेंट वीडियो केबल का अपग्रेड वर्जन है।

4-एचडीएमआई केबल – हाई डेफिनेशन मल्टीमीडिया इंटरफेस (एचडीएमआई) एचडीटीवी पर सबसे अधिक और आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली केबल है। इसके जरिए हाई डेफिनेशन वीडियो और ऑडियो किसी डिवाइस से टीवी पर देखा जा सकता है। ये ट्रैपेजॉइड आकार की होती है और इसमें छोटी-छोटी पिनें होती हैं।

5- डिजिटल ऑप्टिकल ऑडियो केबल – अच्छी साउंड क्वालिटी के लिए डिजिटल ऑप्टिकल ऑडियो केबल का लोग इस्तेमाल करते हैं।

टीवी सिग्नल वायर –
कॉक्स केबल्स- लाइव टीवी देखने के लिए इस केबल की मदद ली जाती है। केबल मालिकों के पास सिग्नल कॉक्स केबल के जरिए आता है। यह केबल घर के बाहर से चलाई जाती है। इसमें भारी मात्रा में जानकारी रखने की क्षमता होती है।

एचडी एंटीना – अगर आप वायु तरंगों के जरिए चैनल देखना चाह रहे हैं, तो आपको टीवी से एंटीना जोड़ना पड़ेगा। सबसे पहले मैनुअल में चेक करें कि आपके टीवी में उसका विकल्प है या नहीं। अगर है, तो उसका पोर्ट ढूंढें और एंटीना लगाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App