ताज़ा खबर
 

क्या होता है Swift Code और कैसे IFSC Code से है यह अलग? जानें

स्विफ्ट कोड का इस्तेमाल आपको किसी भी इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन के लिए बैंक की तरफ से पूछे जाने वाला कोड होता है। इसके बिना आप इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन नहीं कर सकते।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन के लिए स्विफ्ट कोड की जरूरत पड़ती है। कभी-कभी लोग आईएफएससी कोड को ही स्विफ्ट कोड समझ लेते हैं। स्विफ्ट कोड आईएफएससी कोड से बिल्कुल अलग होता है। स्विफ्ट कोड का इस्तेमाल आपको किसी भी इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन के लिए बैंक की तरफ से पूछे जाने वाला कोड होता है। इसके बिना आप इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन नहीं कर सकते। स्विफ्ट कोड को बीआईसी (बैंक आइडेंटिफायर कोड) भी कहा जाता है। इसका पुरा नाम सोसाइटी फॉर वर्ल्ड वाइट इंटर बैंक फाइनेंसियल टेलीकम्युनिकेशन होता है।

स्विफ्ट कोड का इस्तेमाल कहां होता है?

जब आप अपने खाते से किसी अन्य देश में अपने परिवार या दोस्तों को पैसे ट्रांसफर करत हैं तो आपसे स्विफ्ट कोड को दर्ज करने के लिए कहा जाता है। यह कोड किसी भी देश की पहचान, बैंक और ब्रांच के बारे में बताता है। इसके बिना आपकी बैंक ट्रांजेक्शन को सुरक्षा के लिहाज से सही माना जाता। स्विफ्ट कोड में 8 या फिर 11 अल्फाबेट और संख्या का इस्तेमाल होता है।

Swift Code IFSC Code से कैसे है अलग?

इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड (आईएफएससी) स्विफ्ट कोड से इस मायने में अलग है क्योंकि इसका इस्तेमाल भारत के अंदर किसी भी बैंक या फिर किसी भी शाखा में ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए होता है। बात करें स्विफ्ट कोड की तो इसका इस्तेमाल केवल इंटरनेशनल ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए होता है।

स्विफ्ट कोड केवल कुछ चुनिंदा ब्रांच का ही होता है जबकि आईएफएससी कोड देश में मौजूद करीब हर बैंक और ब्रांच का होता है। ग्राहक अपने बैंक की  ब्रांच में जाकर इस कोड की जानकारी हासिल कर सकते हैं। अगर आपका बैंक स्विफ्ट कोड की सुविधा मुहैया करवाता है तो आपको यह कोड दे दिया जाएगा।

Next Stories
1 यदि आपने भी बनवाया है 5 साल से कम उम्र के बच्चे का आधार कार्ड तो करना होगा ये काम
2 अस्पताल की डिस्चार्ज स्लिप से भी नवजात बच्चे का बन जाता है Aadhaar Card! जानिए Baal Aadhaar से जुड़ी ये बातें
3 डाकघर में घर बैठे खुलवा सकते हैं बचत खाता, बस इन डॉक्यूमेंट्स की होगी जरूरत
ये पढ़ा क्या?
X