ताज़ा खबर
 

महंगी होगी Paytm की सेवाएं? कंपनी ने दी सफाई

पेटीएम ने सोमवार (1 जुलाई, 2019) को उन सभी खबरों का खंडन किया जिसमें कहा गया कि कंपनी अपने प्लेटफॉर्म पर डिजिटल लेनदेन के लिए उपभोक्ताओं से अतिरिक्त चार्ज वसूलने जा रही है।

paytmतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

डिजिटल वॉलेट पेटीएम ने सोमवार (1 जुलाई, 2019) को उन सभी खबरों का खंडन किया जिसमें कहा गया कि कंपनी अपने प्लेटफॉर्म पर डिजिटल लेनदेन के लिए उपभोक्ताओं से अतिरिक्त चार्ज वसूलने जा रही है। नोएडा स्थित हेडक्वॉर्टर से एक बयान जारी कर कंपनी ने कहा कि हम साफ कर देना चाहते हैं कि One97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड के स्वामित्व वाले पेटीएम ऐप/पेमेंट गेटवे किसी भी तरह के भुगतान का उपयोग करने पर ग्राहकों से कोई सुविधा/ लेनदेन शुल्क नहीं लिया जाता है। इसमें कार्ड, यूपीआई, नेट-बैंकिंग और वॉलेट शामिल हैं। बयान में आगे कहा गया कि पेटीएम ग्राहक बिना किसी शुल्क के प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध सभी सेवाओं का उपयोग करना जारी रखेंगे।

बता दें ईटी ने खबर दी थी कि मोबाइल एप पेटीएम का इस्तेमाल एक जुलाई से महंगा हो जाएगा। अखबार ने एक सूत्र के हवाले से बताया था कंपनी एमडीआर यानी मर्चेंट डिस्काउंट रेट का बोझ उपभोक्ताओं पर डालना शुरू कर देगी। बैंक और कार्ड कंपनियां डिजिटल लेन-देन के लिए एमडीआर लेते हैं। बताया गया कि क्रेडिट कार्ड्स के जरिए भुगतान पर एक फीसदी, डेबिट कार्ड से 0.9 फीसदी और नेट बैंकिंग और यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस के जरिए लेन-देन पर 12 से 15 रुपए का चार्ज लगेगा।

मामले से अवगत दो लोगों ने तब कथित तौर पर बताया कि नोएडा की कंपनी पेटीएम लाभदायक होने के लिए यह कदम उठाने जा रही है। हालांकि अब इस खबर की पूरी तरह से खंडन किया जा चुका है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Changes from 1st July 2019: ऑनलाइन मनी ट्रांसफर फ्री तो रसोई गैस सस्ती, आज से इन 7 सेवाओं पर पड़ेगा असर
2 Indian Railways: 1 जुलाई से टाइम टेबल में फेरबदल, देखें इस जोन में कहीं आपकी ट्रेन का भी तो नहीं बदला समय
3 Indian Railways अब रेलवे इस राज्य में आवागमन करने वाले यात्रियों से लेगा एक फीसदी विशेष सेस, जानें क्यों