ताज़ा खबर
 

बायोमीट्रिक पहचान से लेकर ओटीपी तक, कैसे-कैसे किया गया आधार का इस्तेमाल; ऐसे करें पता

आधार कार्ड से जुड़ी इस सेवा का लाभ लेने के लिए सबसे पहले यूआईडीएआई की वेबसाइट पर जाना होगा। होमपेज पर 'आधार ऑनलाइन सर्विसेज' श्रेणी के अंतर्गत 'आधार सर्विसेज' में आपको 'आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री' के दिए विकल्प पर जाना होगा।

आधार कार्डधारकों की निजता को सुरक्षित रखने की ओर एक और कदम बढ़ाया गया है। यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) ने नई और बड़े काम की सेवा की शुरुआत की है। ‘आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री’ सेवा के जरिए कार्डधारक जान पाएंगे कि उन्होंने पूर्व में अपने आधार का कैसे-कैसे इस्तेमाल किया था। यानी कि अब आप यह देख सकेंगे कि बीते कुछ महीनों में आपने कहां-कहां अपने बायोमीट्रिक पहचान और वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) ऑथेंटिकेशन के रूप में आधार का इस्तेमाल किया। आधार कार्ड से जुड़ी इस सेवा का लाभ लेने के लिए सबसे पहले यूआईडीएआई की वेबसाइट पर जाना होगा। होमपेज पर ‘आधार ऑनलाइन सर्विसेज’ श्रेणी के अंतर्गत ‘आधार सर्विसेज’ में आपको ‘आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री’ के दिए विकल्प पर जाना होगा। आगे जो पेज खुलेगा, उसमें दिए गए खानों में यूआईडी संख्या और सिक्योरिटी कोड भरना होगा। फिर आधार कार्डधारक को ओटीपी जेनरेट करना पड़ेगा, जिसके बाद कार्डधारक के पंजीकृत मोबाइल नंबर (आधार संख्या से) पर एक ओटीपी आएगा। कार्डधारक को इसके बाद ‘आधार नोटोफिकेशन सेटिंग’ में मांगी गई जानकारी देनी होगी।

यहां आधार के इस्तेमाल (ऑथेंटिकेशन) का प्रकार, हिस्ट्री कब से कब तक की देखनी है और ओटीपी सरीखी जानकारियां भरनी होगी। आप जैसे ही ये सारी चीजें भर कर साइट पर जमा करेंगे, आगे आपकी आधार से जुड़ी हिस्ट्री सामने आ जाएगी। वीडियो में देखिए कैसे चेक की जा सकती आधार कार्ड के प्रयोग से जुड़ी हिस्ट्री-

Next Stories
1 भारतीय रेल में टिकट पर मिलती है 75 फीसद तक छूट, जानिए कैसे
2 होम लोन लेने से पहले जानना जरूरी है ये 10 बातें
3 ये है क्रेडिट कार्ड इस्‍तेमाल करने का स्‍मार्ट तरीका
यह पढ़ा क्या?
X