ताज़ा खबर
 

आप चाय कैसे बनाते हैं? एक्‍सपर्ट के मुताब‍िक ये है सही तरीका

हाल ही में सोमेलियर एंड आफटरनून टी एक्सपर्ट नील फिलिप्स ने एक कार्यक्रम में चाय बनाने और उसे सर्व करने से जुड़ी कुछ अहम बातें बताईं। उनके मुताबिक, चाय में दूध आखिर में डालना चाहिए।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

आप चाय कैसे बनाने हैं? कब और किस तरह उसे पीते हैं? चाय में पहले क्या डालते हैं? इन सवालों पर शायद ही आपने कभी गौर किया हो। लेकिन अधिकतर लोगों को सही चाय बनाना नहीं आता। चाय बनाने में उनसे बारीक गलती होती है। अगर वे चाय सही बनाते हैं तो उन्हें उसे पीने का सही तरीका मालूम नहीं होता। ये दावे हम नहीं बल्कि एक्सपर्ट्स करते हैं।

दूध कब डालें: हाल ही में सोमेलियर एंड आफटरनून टी एक्सपर्ट नील फिलिप्स ने एक कार्यक्रम में चाय बनाने और उसे सर्व करने से जुड़ी कुछ अहम बातें बताईं। उनके मुताबिक, चाय में दूध आखिर में डालना चाहिए, क्योंकि यह किसी को पता नहीं होता कि चाय कड़क है या नहीं।

जल्दी न करें: अक्सर लोग चाय दो मिनट में बना लेते हैं। लेकिन इतना वक्त बेहतरीन किस्म की चाय के लिए नाकाफी होता है। फिलिप्स कहते हैं कि चाय को कम से कम चार मिनट तक उबलने देना चाहिए। यही नहीं, चाय के कप को पकड़ने का सही तरीका वह होता है, जब अंगूठा और तर्जनी कप के हैंडल पर मिलते हों।

कब पिएं चाय: दोपहर की चाय को हाई टी (शाम की) नहीं समझना चाहिए, जो कि आमतौर पर छह बजे पी जाती है। दोपहर की चाय चार बजे के आस-पास ली जाती है, जबकि हाई टी पांच बजे से छह बजे के बीच ली जाती है।

संग ये खा सकते हैं: ढेर सारे लोग चाय के साथ बिस्कुट या फिर नमकीन खाते हैं। मगर फिलिप्स मानते हैं कि कप केक, ब्रेड (बिना किनारों के) या सैंडविच चाय के साथ सबसे शानदार स्वाद देते हैं।

अधिक सेवन नुकसानदेह: अधिक चाय पीना भी शरीर के नुकसानदेह साबित होता है। न्यू इंग्लैंड ऑफ मेडिसिन में हुए शोध के अनुसार, चाय अधिक पीने से शरीर में कैल्शियम-आइरन सही से घुल नहीं पाते। ऐसे में हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। कोशिश करें कि दो से तीन चाय ही पिएं।

गर्म चाय पीना= कैंसर: गर्म चाय हो ज्यादातर लोगों को पसंद आती है। मगर इसे जल्दबाजी में पीना सीधे तौर पर कैंसर बीमारी को न्यौता देना है। ब्रिटिश मेडिकल जर्नल की मानें तो जो भी जल्दी-जल्दी चाय पीते हैं, उन्हें कैंसर की आशंका बढ़ जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App