बड़े काम की हैं ये आठ टिप्‍स, सर्दियों में अपनी कार की ऐसे कर सकते हैं देखभाल

कुछ ही महीने बाद सर्दियां शुरू होने वाली हैं, ऐसे में मैदानी क्षेत्रों से लेकर पर्वतीय व बर्फीली क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना जताई जा रही है। सर्दियों में घर के बाहर कार या वाहन ऐसे ही पड़े रहते हैं, जिससे इनके कलर, लूक्‍स व इसके तकनीक पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

बड़े काम के हैं ये आठ टिप्‍स, सर्दियों में अपनी कार की ऐसे कर सकते हैं देखभाल (File Photo)

कुछ ही महीने बाद सर्दियां शुरू होने वाली हैं, ऐसे में मैदानी क्षेत्रों से लेकर पर्वतीय व वर्फीली क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना जताई जा रही है। सर्दियों में घर के बाहर कार या वाहन ऐसे ही पड़े रहते हैं, जिससे इनके कलर, लुक्‍स व इसके तकनीक पर बुरा प्रभाव पड़ता है। बर्फीले क्षेत्रों में तो वाहनों को रखने तक की समस्‍या आ जाती है। इन्‍हीं सब समस्‍याओं के समाधान के लिए हम आपको आठ ऐसे टिप्‍स सुझाएंगे, जिससे आपको बेहतर मदद मिलेगी।

अगर आप सर्दी के मौसम में अपनी कार को किसी भी तरह की परेशानी से मुक्त रखना चाहते हैं, तो आपको बस थोड़ा ध्यान देने की जरूरत है। अत्यधिक ठंड के मौसम में कार के विभिन्न हिस्से प्रभावित हो सकते हैं। आपकी कार के इंजन पर इसका असर पड़ सकता है, जिससे स्‍टार्ट करने में समस्‍या आ सकती है। इन समस्‍याओं से बचने के लिए बताए गए टिप्‍स को फॉलों करेंगे तो ठंड असहनीय होने पर भी आपको एक आरामदायक ड्राइव मिलती रहेगी।

बैटरी की स्थिति जांचें
आपको अपनी बैटरी की ठीक से जांच करानी चाहिए और आवश्यकतानुसार उसमें आसुत जल भर देना चाहिए। यदि बैटरी को बदलने का समय पहले से ही है, तो आपको इसे करवाना चाहिए, क्योंकि सर्दियों के दौरान, आपकी बैटरी एक चुनौतीपूर्ण चरण से गुजरती है, जब ठंड के मौसम में बैटरी से किसी अन्य मौसम की तुलना में अधिक करंट की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, यदि आपकी बैटरी अचानक से खराब हो जाती है, तो आप कुछ जम्पर केबल को संभाल कर रख सकते हैं।

इंजन तेल और कूलेंट
हमेशा सर्दी शुरू होने से पहले इंजन ऑयल की जांच कर लें। इसके अलावा, रेडिएटर कूलेंट की जांच करें और इसे अनुशंसित बिंदु तक भरें। इंजन को ठंडा करने के साथ-साथ, शीतलक तापमान 0 डिग्री सेल्सियस या उससे कम होने पर रेडिएटर के पानी को जमने से बचाने में भी मदद करता है। साथ ही, भारत में बिकने वाली ज्यादातर कारों में कूलेंट केबिन वार्मर का भी काम करता है।

विंडशील्ड वाइपर और वॉशर द्रव
ठंडी सुबह में विंडशील्ड वाइपर और वॉशर द्रव एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, इसलिए आपको हमेशा टैंक को ऊपर तक रखना चाहिए। वाइपर ब्‍लेड के नुकसान होने पर उसे नया बदलवा लें।

टायरों की जांच करें
चलने से पहले टायर की स्थिति के बारे में जान लें अगर टायर खराब हो गए हैं, तो उन्हें तुरंत बदल दें। इसके अलावा, यह सुनिश्चित करने के लिए नियमित रूप से टायर के दबाव की जांच करें कि ठंड की सुबह में आपको सपाट टायर का सामना नहीं करना पड़ता है। नियमित रूप से जांच न करने पर यह बहुत सारी समस्याएं पैदा कर सकता है।

जाम दरवाजे से बचें
अत्यधिक ठंड के मौसम में, विशेष रूप से पहाड़ी क्षेत्रों में, जहां नियमित रूप से बर्फबारी होती है। रबर सील और दरवाजे के बीच बर्फ बनने के कारण कार के दरवाजे जाम होने की संभावना अधिक होती है। इससे बचने के लिए इसे अच्छी तरह से चिकनाई कर रहे हैं क्योंकि यह बर्फ को बनने से रोकेगा।

डीफ़्रॉस्टर और जलवायु नियंत्रण की जांच करें
जैसे ही सर्दियां शुरू होती हैं, कार के डीफ़्रॉस्टर और क्लाइमेट कंट्रोल सिस्टम की जांच करना न भूलें। ये दोनों ठंड के मौसम में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, जबकि आपकी कार की जलवायु नियंत्रण प्रणाली आपको गर्म रखने में मदद करती है जब बाहर का तापमान ठंडा हो रहा है, डीफ़्रॉस्टर आपकी कार को खिड़कियों पर बर्फ के गठन को रोकने में मदद करता है।

यह भी पढ़ें: आपके बजट में ये पांच शानदार बाइक, कम कीमत के साथ देती हैं बेहतर माइलेज
ब्रेक की जांच करें
ब्रेक सबसे महत्वपूर्ण प्रणालियों में से एक हैं जो वाहन चलाते समय आपकी सुरक्षा करता है। ठंड में गीली और फिसलन भरी सड़क की स्थिति के कारण आपकी कार की ब्रेकिंग दूरी बढ़ सकती है, जो आपकी सुरक्षा के लिए अलार्म बजाती है। इसलिए, जांच लें कि आपकी कार के ब्रेक पूरी तरह से काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: एक नवंबर से Ola Electric Scooter की बिक्री होगी शुरू, जानिए ताजा अपडेट
अपनी कार की अच्छी तरह से जांच करवाएं
आखिरी, लेकिन कम से कम, मौसम के वास्तव में ठंडा होने से पहले अपनी कार को समग्र सर्विसिंग के लिए ले जाएं।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट