ताज़ा खबर
 

UAN के बिना भी निकाल सकते हैं PF का पैसा, यह है तरीका

पीएफ खाते से आधी या फिर पूरी रकम निकाली जा सकती है, पर इसके लिए कुछ तय नियम-शर्त हैं।

Author Updated: January 17, 2019 6:08 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Pixabay)

पैसों की जरूरत के कारण प्रोविडेंट फंड (पीएफ) से रकम निकालना चाहते हैं, लेकिन यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) नहीं है? ऐसे में बगैर यूएएन के भी पैसा निकाला जा सकता है। इसके लिए ऑफलाइन एक फॉर्म भरकर कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के दफ्तर में जमा करना पड़ता है। कागजी कार्रवाई पूरी करने के कुछ समय बाद सेटलमेंट कर दिया जाता है। यूएएन न होने की स्थिति में कर्मचारियों को कई फॉर्म भरने पड़ते हैं। ये जरूरत के हिसाब से अलग-अलग भी हो सकते हैं। आइए जानते हैं कि आखिर कैसे बगैर यूएएन के पीएफ खाते से पैसे निकाले जाते हैं:

कब निकाले जा सकते हैं ईपीएफ से पैसे?: पीएफ खाते से आधी या फिर पूरी रकम निकाली जा सकती है, पर इसके लिए कुछ तय नियम-शर्त हैं। अगर पीएफ खाते में जमा पूरी रकम निकालनी है, तब कर्मचारी का रिटायर होना या दो महीने से अधिक बेरोजगार होना जरूरी है। बेरोजगारी वाले मामले में यह बात किसी राजपत्रित अधिकारी से प्रमाणित करानी होती है।

PF, PF Account, PF Account Balance, EPF Account, Permanent Account Number, Withdraw PF Balance without Universal Account Number, Utility News, Hindi News टेबल में समझें कि आखिर किस स्थिति में कितनी रकम पीएफ खाते से निकाली जा सकेगी।

– अगर शादी समारोह (अपनी, बेटे, बेटी, भाई या बहन) की वजह से पीएफ खाते से रकम निकाल रहे हैं, तब ईपीएफ में 50 फीसदी कर्मचारी के हिस्से को विथड्रॉ किया जा सकता है। हालांकि, इसके लिए सात साल की सेवा पूरी करना जरूरी है।

– शिक्षा संबंधी जरूरत के लिए भी रकम पीएफ खाते से निकाली जा सकती है। कर्मचारी अपनी या फिर बच्चे की कक्षा 10वीं के बाद की पढ़ाई-लिखाई के लिए रकम तभी निकाल सकेगा, जब उसने कम से कम सात साल की नौकरी पूरी कर ली हो। वह ईपीएफ में केवल अपने हिस्से (एंप्लाई कंट्रीब्यूशन) का 50 फीसदी तक पैसा निकाल पाएगा।

– जमीन खरीदने या फिर घर बनवाने के लिए जब पीएफ खाते से पैसे निकालेंगे, तब जमीन या घर कर्मचारी या उसकी पत्नी या फिर संयुक्त रूप से दोनों के नाम होना जरूरी है। सरकारी सेवा में पांच साल पूरे करना भी अनिवार्य है। जमीन के लिए- मासिक वेतन + डीए की 24 गुना तक रकम निकाली जा सकेगी, जबकि घर के मामले में कर्मचारी मासिक वेतन + डीए की 36 गुना तक रकम निकाल सकेगा।

– होम लोन चुकाने के लिए अगर पीएफ खाते से पैसे निकालना चाहते हैं, तब सरकारी सेवा में न्यूनतम 10 साल पूरे करना अनिवार्य है। कर्मचारी इसके तहत अपने व एंप्लायर के 90 फीसदी तक के हिस्से को निकाल सकता है, जिसके लिए कुछ शर्तें इस प्रकार हैं- प्रॉपर्टी कर्मचारी, पत्नी या संयुक्त रूप से दोनों के नाम हो। कर्मचारी के खाते में ब्याज समेत रकम 20 हजार से ऊपर होना जरूरी है। बाकी स्थितियां ऊपर दी गई टेबल में जानें।

पैसे निकालने के लिए यहां से फॉर्म डाउनलोड करें-

https://www.epfindia.gov.in/site_en/WhichClaimForm.php#Q3

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 IRCTC: हमसफर एक्‍सप्रेस का किराया ही नहीं, मेल/एक्‍सप्रेस की तुलना में कॉफी भी है महंगी, जानिए रेट
2 बैंक ला रहे नया ATM कार्ड! मशीन में डालते समय रखना होगा इस एक बात का ध्यान
3 ताकि सर्दियों में परेशान न करे आपकी कार, जाड़ों में ऐसे रखें अपनी चार पहिया का ख्याल