ताज़ा खबर
 

SBI, PNB, HDFC, ICICI बैंकों में है खाता तो पढ़ लें यह खबर, नए साल के जश्न में पड़ सकता है खलल; जानें वजह

शीर्ष बैंक के दिशा-निर्देश के बाद सभी बैंक अपने कस्टमर्स को इन दिनों विभिन्न माध्यमों से अपने मैग्नेटिक चिप बेस्ड कार्ड्स रीप्लेस कराने का निर्देश दे रहे हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (क्रिएटिवः नरेंद्र कुमार)

State Bank of India (SBI), Punjab National Bank (PNB), HDFC और ICICI Bank का Debit Card इस्तेमाल करते हैं और उसमें EMV यानी Europay, Mastercard व Visa नहीं है, तब आपको नए साल में ATM से पैसे निकालने में दिक्कत हो सकती है। ऐसा इसलिए, क्योंकि हो सकता है कि 31 दिसंबर 2019 के बाद आपका डेबिट कार्ड 1 जनवरी 2020 से ही ब्लॉक कर दिया जाए।

Reserve Bank of India (RBI) के दिशा-निर्देशों के मुताबिक, सभी भारतीय बैंकों को अपने ग्राहकों को दिए हुए मैग्नेटिक डेबिट कार्ड रीप्लेस करने होंगे। बैंकों की उनकी जगह नए ईएमवी कार्ड देने होंगे। यह डेबिट कार्ड बदलने की प्रक्रिया अनिवार्य है, क्योंकि यह अंतर्राष्ट्रीय पेमेंट्स के पैमाने से जुड़ी है।

ऐसे में SBI, PNB, HDFC Bank, ICICI Bank और अन्य बैंकों के जो कस्टमर्स पुराने डेबिट कार्ड या फिर मैग्नेटिक डेबिट कार्ड इस्तेमाल कर रहे हैं, वे समय रहते अपने कार्ड्स को रीप्लेस करा लें। अन्यथा उनके कार्ड्स डिएक्टिवेट हो सकते हैं। अहम बात यह है कि कार्ड्स काम करना तब बंद करेंगे, जब नए साल लग रहा होगा। यानी इस प्रक्रिया के चलते कार्ड न रीप्लेस कराने पर 2020 के जश्न मनाने वालों को भी झटका लग सकता है।

RBI दिशा-निर्देशों में साफ कहा गया है- सभी बैंकों को सारे मैग्नेटिक चिप बेस्ड डेबिट कार्ड्स को EMV और PIN आधारित कार्ड्स के साथ रीप्लेस करना होगा। और, यह काम 31st December 2019 तक हो जाना चाहिए। एक्सपर्ट्स की मानें तो भारतीय रिजर्व बैंक ने मैग्नेटिक स्ट्राइप कार्ड्स के साथ होने वाले ऑनलाइन फर्जीवाड़े को लेकर 31 दिसंबर 2019 तक इन कार्ड्स को डिएक्टिवेट करने का प्रस्ताव रखा है।

शीर्ष बैंक के दिशा-निर्देश के बाद सभी बैंक अपने कस्टमर्स को इन दिनों विभिन्न माध्यमों से अपने मैग्नेटिक चिप बेस्ड कार्ड्स रीप्लेस कराने का निर्देश दे रहे हैं। इसी बीच, SBI ने सभी डेबिट कार्ड होल्डर्स को एक ट्वीट के जरिए चेताया है कि वे 31 दिसंबर, 2019 से पहले अपने मैग्नेटिक स्ट्राइप वाले कार्ड्स को अपडेट/रीप्लेस करा लें। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्टेट बैंक ने तो ऐसे पुराने कार्ड्स के साथ उन कार्ड्स को भी डिएक्टिवेट करना शुरू कर दिया है, जिनमें PAN या फिर Form 60 अपडेट नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अब बिना Aadhaar के नहीं मिलेगी 8.3% गारंटी ब्याज वाली ये स्कीम! जानिए- क्या है पेंशन देनेवाली PMVV योजना?
2 PPF अकाउंट मैच्योर हो जाने के बाद ब्याज मिलता है या नहीं? खाताधारक को टैक्स छूट मिलती है या नहीं, क्लिक कर जानें डिटेल
3 बच्चों के लिए लेने जा रहे हैं Mutual Fund तो पहले जान लें SEBI के नए नियम, सरकार ने किए हैं अहम बदलाव
ये पढ़ा क्या?
X