ताज़ा खबर
 

SBI ग्राहकों के लिए मुफ्त CASH WITHDRAWL की सीमा घटी? जान लीजिए सही नियम

SBI CASH WITHDRAWL: नए नियमों के लागू होने से पहले सोशल मीडिया पर तरह-तरह की अफवाहें फैलाई गई जिस पर एसबीआई ने ट्वीट कर सही जानकारी दी है।

प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

SBI CASH WITHDRAWL: देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) की सेवाओं से जुड़े तमाम नियमों में 1 अक्टूबर 2019 से बदलाव हो गया। नए नियमों के लागू होने से पहले सोशल मीडिया पर तरह-तरह की अफवाहें फैलाई गई जिस पर एसबीआई ने ट्वीट कर सही जानकारी दी है।

दरअसल सोशल मीडिया पर कैश जमा/निकासी को लेकर अफवाहें फैलाई जा रही हैं। इन अफवाहों को दूर करने के लिए एसबीआई ने जानकारी दी है कि महीने में तीन बार और साल में 36 बार नकद जमा मुफ्त है। इसके बाद प्रति ट्रांजेक्शन के लिए ग्राहक से 50 रुपए प्लस जीएसटी लिया जाएगा। जबकि सोशल मीडिया में कहा जा रहा था कि साल में कुल 40 बार नकद जमा मुफ्त है।

वहीं बैंक से मुफ्त कैश निकालने की सीमा प्रति माह 2 है जबकि साल में ग्राहक 24 बार मुफ्त कैश निकाल सकते हैं। एसबीआई के एटीएम से प्रतिमाह 5 बार कैश निकालने पर कोई शुल्क नहीं लगेगा और साल भर में यह इसकी सीमा 60 है।

वहीं अन्य बैंकों के लिए प्रति माह 8 ट्रांजेक्शन मुफ्त है। इन कुल 8 ट्रांजेक्शन में से तीन मेट्रो तो बाकी 5 आप छोटे शहरों के लिए कर सकते हैं। एसबीआई कैश डिपोजिट मशीन (सीडीएम) में डेबिट कार्ड के जरिए नकद जमा करने पर ग्राहकों से कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा।

बता दें कि एसबीआई ने सबसे बड़ा बदलाव एवरेज मंथली बैलेंस (AMB) को लेकर किया है। दरअसल बैंक अकाउंट में मंथली एवरेज बैलेंस मेंटेन नहीं कर पाने पर लगने वाले चार्ज में कटौती कर रहा है। बैंक ने शाखाओं को तीन श्रेणियों- मेट्रो, अर्ध-शहरी और ग्रामीण शाखाओं में वर्गीकृत किया है।

Next Stories
1 BSNL ग्राहकों के लिए खुखबरी, अब Paytm ऐप के जरिए कीजिए Wi-Fi हॉटस्पॉट्स का इस्तेमाल
2 दिवाली पर घर-गांव जाने को लोग न हों परेशान, इसलिए Indian Railways ने किए ये इंतजाम
3 IRCTC: अब ट्रेन में लीजिए गर्मागर्म गुजराती स्नैक्स का मजा! ढोकला, खमन, खाखरा, फाफरा से लेकर थेपला तक मिलेगा; जानें कैसे
ये पढ़ा क्या?
X