ताज़ा खबर
 

Aadhaar Card में अपडेशन के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं रेंट एग्रीमेंट, तब इन बातों का रखें ख्याल, वरना अटक सकता है काम!

Aadhaar Card Updation: किराए पर रहने वाले लोगों को आधार कार्ड पर परमानेंट एड्रेस न देने की समस्या से समय-समय पर जूझना पड़ता है। वह जब किराए के घर से दूसरे मकान मालिक या फिर दूसरे शहर में जॉब के लिए जाते हैं तो आधार कार्ड पर पुराना एड्रेस ही छपा रहता है।

Aadhaar Card Updation: यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) द्वारा जारी किया जाना वाला आधार कार्ड किसी भी व्यक्ति की पहचान के लिए सबसे अहम दस्तावेजों में से एक है। आधार अपडेट कराने के लिए आपको दस्तावेज जमा कराने की जरूरत होती है। कई डिटेल्स ऐसी हैं जिन्हें आधार कार्ड सेंटर पर जाकर ही अपडेट किया जा सकता है। किराए पर रहने वाले लोगों को आधार कार्ड पर परमानेंट एड्रेस न देने की समस्या से समय-समय पर जूझना पड़ता है। वह जब किराए के घर से दूसरे मकान मालिक या फिर दूसरे शहर में जॉब के लिए जाते हैं तो आधार कार्ड पर पुराना एड्रेस ही छपा रहता है। ऐसे में यूआईडीएआई ने आधारकार्डधारकों के लिए अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल के जरिए अपडेशन के लिए एक सूचना साझा की है।

यूआईडीएआई के मुताबिक रेंट एग्रीमेंट के जरिए आधार कार्ड में एड्रेस अपडेट करने पर रजिस्टर्ड रेंट एग्रीमेंट पर आपका नाम होना चाहिए। इसके साथ ही रेंट एग्रीमेंट रजिस्टर्ड होना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता तो आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। एड्रेस अपडेट करवाने के लिए अगर आपके पास रेंट एग्रीमेंट या फिर कोई अन्य दस्तावेज नहीं है तो आप वैलिडेशन लेटर सर्विस का इस्तेमाल कर सकते हैं।

परिवार के दूसरे सदस्यों, रिलेटिव, फ्रेंड्स, मकान मालिक की सहमति और प्रमाणीकरण के बाद आप इस सर्विस का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए उस व्यक्ति की अनुमति जरूरी होती है, जिसके मकान में आप रह रहे हैं या जिनके साथ आप रह रहे हैं। बता दें कि इससे पहले यूआईडीएआई ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि अगर कार्डधारक ऑनलाइन अपडेशन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पूरे डॉक्यूमेंट को स्कैन करना होगा और फिर एक सिंगल पीडीएफ तैयार कर अपलोड करना होगा।

एड्रेस वेरिफाई लेटर को आगे बढ़ाने से पहले निम्न बातों का ध्यान रखें:

एड्रेस वेरिफायर के पते पर एक गुप्त कोड वाला एड्रेस वैलिडेशन लैटर भेजकर पते को मान्य किया जाता है। इस सर्विस के लिए निवासी (आधारकार्डधारक) और एड्रेस वेरिफायर दोनों को ही अपना मोबाइल नंबर Aadhaar में रजिस्टर अथवा अपडेट करन अनिवार्य है। इस सर्विस के लिए अप्लाई करने के बाद दोनों का एक दूसरे के संपर्क में होना आवश्यक होता है। यदि एड्रेस वेरिफायर तय समय के अंदर फाइनल सहमति नहीं देता है तो प्रक्रिया अधूरी रह जाएगी और आधार कार्ड का एड्रेस अपडेट नहीं होगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कालका शताब्दी एक्सप्रेस बनी पहली बायो-वैक्यूम टॉयलेट ट्रेन, IRCTC अन्य गाड़ियों में भी ये सुविधा लाने पर कर रहा विचार
2 IRCTC Indian Railways ने आज कैंसिल कीं 450 से अधिक ट्रेनें, यहां देखिए पूरी List
3 नरेंद्र मोदी सरकार ने जारी कीं General Provident Fund और मिलते-जुलते फंड्स की ब्याज दरें, यहां चेक करें डिटेल्स
यह पढ़ा क्या?
X