RBI Monetary Policy: ब्याज दरों में नहीं किया गया कोई बदलाव, शक्तिकांत दास बोले- अर्थव्यवस्था अभी पूरी तरह से नहीं सुधरी

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास की अगुवाई वाली मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) ने आखिरी बार 22 मई 2020 को रेपो दर में बदलाव किया था।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी की बैठक के बाद घोषणा करते हुए कहा कि एमपीसी ने रेपो दर को चार प्रतिशत पर कायम रखने का फैसला किया है। (एक्सप्रेस फोटो)

भारतीय रिजर्व बैंक ने लगातार आठवीं बार ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि अभी तक अर्थव्यवस्था में कोई सुधार नहीं हुआ है इसलिए मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी(एमपीसी) ने अर्थव्यवस्था को सहारा देने के लिए इन दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। इसके अलावा आरबीआई ने आईएमपीएस के जरिए पैसे भेजने की लिमिट को 2 लाख रुपए से बढ़ाकर 5 लाख रुपए कर दिया है।

इस बार मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी की बैठक 6 अक्टूबर को शुरू हुई थी। रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी की बैठक के बाद घोषणा करते हुए कहा कि एमपीसी ने रेपो दर को चार प्रतिशत पर कायम रखने का फैसला किया है। इसी को ध्यान में रखते हुए रिवर्स रेपो दर भी 3.35 प्रतिशत पर कायम रखा गया है। शक्तिकांत दास ने कहा कि एमपीसी ने एकमत से ब्याज दरों में बदलाव नहीं करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि वृद्धि को समर्थन तथा मुद्रास्फीति को लक्ष्य के दायरे में रखने के लिए केंद्रीय बैंक ने अपने नरम रुख को भी जारी रखने का फैसला किया है।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास की अगुवाई वाली मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) ने आखिरी बार 22 मई 2020 को रेपो दर में बदलाव किया था। रेपो दर वह दर है जिस पर कमर्शियल बैंक केंद्रीय बैंक से फौरी जरूरतों को पूरा करने के लिए अल्पकालीन कर्ज लेते हैं। रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष 2021-22 के लिए जीडीपी में 9.5 प्रतिशत की वृद्धि दर के अनुमान को भी कायम रखा है। वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के लिए वास्तविक जीडीपी वृद्धि का अनुमान 17.2% है।

मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी की बैठक सेंसेक्स में जबरदस्त उछाल

रिजर्व बैंक द्वारा मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी के बैठक के बाद रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं करने के ऐलान के बाद शुक्रवार को सेंसेक्स 500 अंक से अधिक चढ़ गया। 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 60,200 का आंकड़े दोबारा छूने के बाद, 524 अंक या 0.88 प्रतिशत की तेजी के साथ 60,201.83 पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह निफ्टी 149.45 अंक या 0.84 प्रतिशत चढ़कर 17,939.80 पर पहुंच गया।

सेंसेक्स में टाटा स्टील के शेयर दो प्रतिशत से अधिक की बढ़त के साथ सबसे ज्यादा लाभ पाने वाले शेयर रहे। इसके बाद इन्फोसिस, टीसीएस, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचसीएल टेक और बजाज ऑटो के शेयरों का स्थान रहा। दूसरी ओर, एचयूएल, एनटीपीसी, टाइटन और नेस्ले इंडिया के शेयरों को नुकसान हुआ। (भाषा इनपुट्स के साथ)

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट