ताज़ा खबर
 

10 साल की उम्र में मां-बाप के प्यार से महरूम रह गए थे रतन टाटा, दादी के पास गुजारा काफी वक्त, उन्हीं की सिखाई बातों पर बढ़ रहे आज

रतन टाटा ने बताया कि वो दादी नवाजबाई टाटा के काफी करीब रहे हैं। उन्होंने बताया कि वो आज भी अपनी दादी की सिखाई बातों पर आगे बढ़ रहे हैं।

tata group tata group chairmanजाने माने उद्योगपति रतन टाटा। (पीटीआई)

मशहूर उद्योगपति रतन टाटा को किसी पहचान की जरुरत नहीं है। टाटा ग्रुप के पूर्व चेयरमैन और दुनिया की सबसे छोटी कार नैनो बनाने से पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हुए रतन टाटा भारत के एक सफल व्यवसायी हैं। हालांकि परिवार के मामले में उनकी किस्मत अच्छी नहीं रही। दरअसल महज दस साल की उम्र में उनके माता-पिता अलग हो गए। इसके बाद उनका पालन पोषण उनकी दादी द्वारा किया गया। महज 21 साल की उम्र में टाटा समूह के चेयरमैन बने रतन टाटा को इश्क में भी पड़े मगर यहां उन्हें कामयाबी नहीं मिली।

आमतौर पर अपनी निजी जिंदगी को लेकर चुप रहने वाले टाटा ने बताया था कि वह कैसे प्यार में पड़ गए थे और विवाह होते-होते रह गया। ये घटना अमेरिका के लॉस एंजिलिस की है। जहां कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद रतन टाटा एक आर्किटेक्चर फर्म में नौकरी करने लगे थे। 1960 के शुरुआती दिनों की बात थी, टाटा पर अपनी कार थी और वह नौकरी को एंजॉय कर रहे थे।

28 दिसंबर को 83 वर्ष के होने जा रहे रतन टाटा ने बताया कि ये लॉस एंजिलिस की बात है। उन्होंने बताया, ‘मैं प्यार में पड़ा था और विवाह होने ही वाला था। मगर उसी दौर में मैंने भारत वापस लौटने का फैसला लिया क्योंकि मैं अपनी दादी से दूर था। वो काफी बीमार थीं। मुझे उम्मीद थी कि मेरी होने वाली पत्नी भी भारत आ जाएगी, जिसके साथ मैं शादी करना चाहता हूं। मगर 1962 की भारत-चीन लड़ाई के चलते उस लड़की के माता-पिता उसके भारत आने के पक्ष में नहीं थे और इस तरह ये रिश्‍ता टूट गया।’

रतन टाटा ने बताया कि वो दादी नवाजबाई टाटा के काफी करीब रहे हैं। उन्होंने बताया कि वो आज भी अपनी दादी की सिखाई बातों पर आगे बढ़ रहे हैं। बकौल रतन टाटा, ‘दादी ने हर कीमत पर गरिमा बनाए रखना सिखाया जो आजतक कायम है।’ बता दें कि रतन टाटा को अपने वादे पर खरे रहने वाली शख्सियतों में एक माना जाता है। उन्होंने वादा किया था कि भारतीयों को सबसे सस्ती कार मुहैया कराएंगे। ये वादा उन्होंने नैनो कार के रूप में पूरा किया।

दुनिया भर के लोगों के गाड़ियों के सपने को पूरा करने वाले रतन टाटा को भी गाड़ियों का खूब शौक है। उनके गराज में फरारी, कैडिलैक, क्राइस्लर सेब्रिंग से लेकर मर्सिडीज 500 जैसी शानदार लग्जरी कारें मौजूद हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मियों को फिलहाल 21 की बजाय 17 फीसदी ही महंगाई भत्ता, पर LTA, LTC और बोनस पर मिली खुशी!
2 आवेदन के 15वें दिन तक Kisan Credit Card इश्यू करना है अनिवार्य! न मिलें तो बैंक के खिलाफ यहां करें शिकायत
3 इनरोलमेंट और आधार नंबर के जरिए ऐसे पाएं Aadhaar Card, 15 दिन के भीतर घर पर होगा डिलीवर
यह पढ़ा क्या?
X