पंजाब में ऑटो वालों के लिए CM का बड़ा ऐलानः माफ होंगे बकाया चालान, नए रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट भी मिलेंगे

मुख्यमंत्री स्टूल पर खड़े हो गए और भारी तालियों के बीच सभा को संबोधित करने लगे। सीएम चन्नी ने इस दौरान उनके साथ एक भावनात्मक राग मारा, क्योंकि उन्होंने याद किया कि कैसे उन्होंने शुरुआती दिनों में खुद ऑटो-रिक्शा चलाया था।

charanjit singh channi, punjab, congress
पंजाब के लुधियाना में ऑटो ड्राइवर भाइयों की बातें सुनते हुए सीएम चरणजीत सिंह चन्नी। (फोटो सोर्स: टि्वटर/@CMOPb)

कांग्रेस शासित पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने ऑटो-रिक्शा ड्राइवरों से बड़ा वादा किया है। उन्होंने कहा कि ऑटो वालों को नए रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट जारी किए जाएंगे, जबकि उनके बकाया चालान को माफ भी किया जाएगा।

मुख्यमंत्री कार्यालय के बयान के मुताबिक, “लुधियाना शहर में 22 नवंबर को सीएम चन्नी ने ऐलान किया कि जल्द ही ऑटो ड्राइवरों को नए रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट जारी किए जाएंगे, ताकि उनका शोषण न हो सके।”

सीएमओ के हवाले से समाचार एजेंसी “एएनआई” ने आगे बताया कि सीएम ने यह भी घोषणा की कि जो चालान बकाया है, उन्हें भी माफ कर दिया जाएगा। उन्होंने ऑटो-रिक्शा मालिकों द्वारा विशेष रूप से ऑटो-रिक्शा चलाने के लिए एक पीली रेखा खींचने की मांग को भी स्वीकार किया।

दरअसल, सोमवार को सूबे के लुधियाना शहर में ऑटो-रिक्शा चालकों को एक असामान्य अतिथि मिल गए, क्योंकि सीएम ने उनकी समस्याओं को सुनने के लिए अनाज मंडी के रास्ते में एक अनिर्धारित पड़ाव बनाया।

चन्नी के साथ इस दौरान पंजाब कांग्रेस चीफ नवजोत सिंह सिद्धू भी थे। दोनों इस दौरान लकड़ी की बेंच पर बैठे और ऑटो रिक्शा चालकों की समस्या सुनते रहे। ऑटो रिक्शा चालकों की ओर से इस दौरान उन्हें चाय और मट्ठी भी खाने को दी गई।

बातचीत के दौरान सीएम ने ऑटो रिक्शा ड्राइवर्स को आश्वासन दिया कि वे उनकी वास्तविक मांगों पर विचार करेंगे। चूंकि, सीएम की मौजदूगी की वजह से ऑटो-रिक्शा चालकों की भारी भीड़ वहां पहुंच गई थी।

ऐसे में मुख्यमंत्री स्टूल पर खड़े हो गए और भारी तालियों के बीच सभा को संबोधित करने लगे। सीएम चन्नी ने इस दौरान उनके साथ एक भावनात्मक राग मारा, क्योंकि उन्होंने याद किया कि कैसे उन्होंने शुरुआती दिनों में खुद ऑटो-रिक्शा चलाया था।

सीएम ने अपने अचानक दौरे के दौरान घोषणा की कि ऑटो-रिक्शा चालकों को उनके उत्पीड़न को रोकने के लिए जल्द ही नए पंजीकरण प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे। साथ ही लंबित सभी चालानों को माफ कर दिया जाएगा। उन्होंने ऑटो रिक्शा चालकों से कहा कि वे यातायात नियमों का पालन करें और ईमानदारी से काम करें।

बकौल सीएम, “लुधियाना में 15,000 ऑटो रिक्शा चालक हैं और 30,000 अन्य जो रेहड़ी (खाद्य स्टालों और फलों की सब्जियां) चलाकर अपनी रोजी-रोटी चलाते हैं। पुलिस उनसे पैसे वसूलती है, जिसे अनुमति नहीं दी जाएगी।”

केजरीवाल ने हर महिला को 1,000 रु देने का वादा किया: इसी बीच, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में अगर आम आदमी पार्टी (आप) सत्ता में आती है, तो राज्य में हर महिला के खाते में एक हजार रुपए प्रति माह भेजे जाएंगे। उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को ‘‘नकली केजरीवाल’’ करार दिया।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट