ताज़ा खबर
 

प्राइवेट सेक्टर में करते हैं काम फिर भी मिल सकती है सरकारी पेंशन, कैसे? जानना चाहेंगे आप

Government pension, EPFO and NPS: क्या आपको पता है कि चाहे आपकी सरकारी नौकरी हो या प्राइवेट आपको भी सरकारी पेंशन मिल सकती है। इसके लिए सरकार ने ही योजनाएं शुरू की है।

Author नई दिल्ली | Updated: September 26, 2019 3:39 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

Government pension, EPFO and NPS: हम सभी के मन में भविष्य को लेकर चिंता रहती है। खासकर बुढ़ापे में या फिर रिटायरमेंट की उम्र को पार करने के बाद जीवन यापन के लिए सोर्स ऑफ इनकम की चिंता। सरकारी कर्मचारियों के लिए भी पेंशन की व्यवस्था की गई है। सरकार ने 31 दिसंबर 2003 से पहले सरकारी नौकरी करने वालों को पेंशन की सुविधा दी है। वहीं वे कर्मचारी जिन्होंने 1 जनवरी 2004 के बाद सरकारी नौकरी शुरू की है उन्हें पेंशन से वंचित रखा है। लेकिन क्या आपको पता है कि चाहे आपकी सरकारी नौकरी हो या प्राइवेट आपको भी सरकारी पेंशन मिल सकती है। इसके लिए सरकार ने ही योजनाएं शुरू की है। अगर आप भी अपने भविष्य की वित्तीय चिंताओं को लेकर चिंतित हैं तो बड़े ही आसान तरीके से सरकारी पेंशन पाकर खुद को अपने परिवार को सुरक्षित रख सकते हैं।

सरकार ने 1 मई 2009 को नेशनल पेंशन सिस्टम की शुरुआत की थी। इसमें सरकारी और प्राइवेट नौकरी करने वाला कोई भी शख्स जिसकी उम्र 18 से 60 साल के बीच है वह इसमें निवेश कर सकता है। इसमें टायर-1 और टायर-2 दो तरह की कैटगिरी सुनिश्चित की गई है। टायर-1 में 50 हजार रुपए तक का निवेश कर इनकम टैक्स एक्ट की धारा 80CC (1B) के तहत अतिरिक्त टैक्स बचत का फायदा उठाया जा सकता है। यहां बता दें कि एनपीएस में कर्मचारी का ही निवेश होता है न कि उस संगठन का जहां वह काम करता है। एनपीएस में निवेश करने के बाद कर्मचारी को रिटायरमेंट के बाद पेंशन मुहैया करवाई जाती है।

ज्यादातर प्राइवेट कंपनियां इम्पलॉयी प्रोविडेंट फंड ऑर्गनाइजेशन (ईपीएफओ) का इस्तेमाल कर कर्मचारियों के भविष्य को सुरक्षित रखती हैं। ईपीएफओ में कर्मचारी के साथ-साथ कंपनियां भी निवेश करती है। ईपीएफओ भी सरकार की ही संस्था है। हालांकि एनपीएम में निवेश के तमाम तरह के विकल्प मौजूद हैं। इसके साथ ही इसमें सरकार द्वारा ब्याज दरों को समय-समय पर बदला जाता है। ऐसे में एनपीएस में निवेश करने पर कोई भी कर्मचारी ईपीएफओ की तुलना में ज्यादा लाभ हासिल करता है।

अटल पेंशन योजना: एनपीएस और ईपीएफओ के अलावा कर्मचारी अटल पेंशन योजना (एपीवाई) में निवेश कर सकते हैं। नियमों के मुताबिक इस योजना में 18 से 40 साल का कोई भी शख्स शामिल हो सकता है। इसमें सरकार द्वारा प्रति माह 5,000 रुपए तक की पेंशन देने की व्यवस्था की गई है। अगर कोई शख्स एनपीएस, एपीवाई और ईपीएफओ में कम उम्र से ही निवेश करना शुरू कर देते हैं तो आपको बुढ़ापे में पेंशन की कोई टेंशन नहीं रहेगी। इनके अलावा स्‍वावलंबन योजना (एनपीएस-लाइट), प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन योजना भी है जिसे सरकार ने समाज के वंचितों और असंगठित क्षेत्र के लोगों के लिए शुरू किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Flipkart पर लीजिए 1 लाख रुपये तक का सामान और बाद में चुकाइए! जानें कैसे
2 कर्मचारियों की रिटायरमेंट की उम्र घटाने वाली खबर को सरकार ने बताया बेबुनियाद
3 PPF RULES: एक साल में 362 रुपए प्रतिदिन जोड़कर बना सकते हैं 1 करोड़ रुपये का फंड, जानिए तरीका
जस्‍ट नाउ
X