ताज़ा खबर
 

Post Office से मंगवा सकेंगे वैष्‍णोदेवी का प्रसाद, होम डिलीवरी होगी शुरू

Post Office: लॉकडाउन और कोरोना संकट के बीच पोस्ट ऑफिस के जरिए वैष्‍णोदेवी के प्रसाद की डिलीवरी होने से भक्तों को काफी सहुलियत होगी। लॉकाडाउन के चलते वैष्णोदेवी के दर्शन नहीं करने वाले भक्त घर पर प्रसाद मंगवा सकेंगे।

Post Office: पोस्ट ऑफिस अब जल्द भक्तों को माता वैष्‍णोदेवी के प्रसाद की डिलीवरी करेगा। केंद्र सरकार ने प्रस्ताव पर चर्चा के बाद मंजूरी दे दी है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक समीक्षा बैठक में इसपर फैसला लिया है। जम्मू-कश्मीर ने देशभर में माता वैष्णो देवी मंदिर के प्रसाद और कश्मीर के केसर की आपूर्ति की तैयारी शुरू कर दी है।

लॉकडाउन और कोरोना संकट के बीच पोस्ट ऑफिस के जरिए वैष्‍णोदेवी के प्रसाद की डिलीवरी होने से भक्तों को काफी सहुलियत होगी। लॉकाडाउन के चलते वैष्णोदेवी के दर्शन नहीं करने वाले भक्त घर पर प्रसाद मंगवा सकेंगे।

रविशंकर प्रसाद ने एक बयान में कहा कि पोस्ट ऑफिस को अब सप्लाई चेन में अग्रसर होना है। दवाओं और जरूरी वस्तुओं की डिलीवरी के बाद पोस्ट ऑफिस अब इस मॉडल पर जोर देगा। लॉकडाउन के दौरान लगभग 85 लाख लाभार्थियों को भारत पोस्ट पेमेंट बैंक के आधार-सक्षम भुगतान प्रणाली (AePS) का इस्तेमालकरते हुए लगभग 1,500 करोड़ रुपये दिए गए।

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि कोरोनो वायरस महामारी के बाद शुरू हुए संकट के दौरान दवाओं और आवश्यक वस्तुओं के वितरण से मिले अनुभव ने डाक विभाग को इस मॉडल को आगे बढ़ाने का अवसर दिया है। गौरतलब है कि लॉकडाउन के चलते देश के कई प्रमुख मंदिरों में लोग ऑनलाइन दर्शन कर रहे हैं।

इस दौरान भारी संख्या में देश विदेश से भक्त जुड़ रहे हैं। लॉकडाउन ने भक्तों की आस्था के स्वरूप में बड़ा बदलाव किया है। वहीं लॉकडाउन के बाद माता वैष्णों देवी के दर्शन करवाने की तैयारी चल रही है। इसके लिए मंदिर प्रशासन लगातार तैयारी कर रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Indian Railways का ऐलान- 2600 ट्रेनें चला 36 लाख प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाएंगे
2 Aarogya Setu App की रेटिंग MIT ने 2 से घटाकर की 1, मांगी जा रही जरूरत से ज्यादा जानकारी!
3 सफर से पहले ही खो जाए Rail Ticket तो फिर भी कर सकते हैं यात्रा, जानें क्या है नियम