दिल्ली की हवा खराब! NCR में इन इकाइयों को आठ घंटे तक काम की अनुमति, राजधानी में ट्रकों की एंट्री पर रोक- CAQM का निर्देश

इस बीच, दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव को पत्र लिखकर क्षेत्र में प्रदूषण की ‘गंभीर स्थिति’ के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) राज्यों के पर्यावरण मंत्रियों की बैठक बुलाने का आग्रह किया। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के इलाके भी शामिल हैं।

delhi, air pollution, national news
दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन वाले इलाके में वायु प्रदूषण। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः प्रेमनाथ पांडे)

दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में वायु गुणवत्ता को और बिगड़ने से रोकने के लिए नए दिशा निर्देश जारी करते हुए केंद्र की वायु गुणवत्ता समिति ने शुक्रवार को शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने का आदेश दिया और ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा देने की अनुमति दी। वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) ने यह भी निर्देश दिया कि एनसीआर में ‘पाइप्ड नैचुरल गैस’ (पीएनजी) या अन्य स्वच्छ ईंधन पर न चल रही औद्योगिक इकाइयों को सोमवार से शुक्रवार तक एक दिन में केवल आठ घंटे तक काम करने की अनुमति दी जाएगी और सप्ताहांत में काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

आयोग ने कहा, ‘‘एनसीआर में सभी स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान परीक्षाओं और प्रयोगों को छोड़कर अन्य उद्देश्यों के लिए बंद रहेंगे और केवल ऑनलाइन माध्यम से पढ़ाया जाएगा।’’ उसने यह भी कहा कि उद्योगों पर पहले दिए उसके दिशा निर्देश जारी रहेंगे। इन निर्देशों के अनुसार, एनसीआर में अब भी अस्वीकृत ईंधनों का इस्तेमाल कर रहे सभी उद्योग तत्काल प्रभाव से बंद किए जाएंगे। साथ ही एनसीआर राज्य और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार आपात सेवाओं को छोड़कर डीजल के इस्तेमाल पर कड़ा प्रतिबंध सुनिश्चित करेगी।

अपने नए दिशा निर्देशों में आयोग ने दिल्ली में ट्रकों के प्रवेश पर भी रोक लगा दी। केवल उन ट्रकों को ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी जो इलेक्ट्रिक है और जो सीएनजी पर चल रहे हैं। साथ ही आवश्यक सामान लेकर आ रहे ट्रकों को भी प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। आयोग ने संबंधित राज्यों और दिल्ली सरकार के मुख्य सचिवों को निर्देश दिया कि इन निर्देशों का क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए।

सीएक्यूएम ने कार्य बल गठित किएः वायु गुणवत्ता और बिगड़ने से रोकने की ‘‘तत्काल’’ आवश्यकता को देखते हुए वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) ने शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) राज्यों उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली के लिए कार्य बल गठित किए। आयोग ने कहा कि कार्य बल उसके आदेशों को लागू करेंगे, उनकी निगरानी करेंगे और अनुपालन की स्थिति रिपोर्ट देंगे। उसने कहा कि हाल फिलहाल में आदेशों का पालन न किए जाने के कई मामले सामने आए हैं।

हरियाणा में दिल्ली से सटे चार जिलों में स्कूल बंदः हरियाणा सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में ‘बिगड़ती वायु गुणवत्ता’ के मद्देनजर दिल्ली से सटे अपने चार जिलों के सभी स्कूलों को तत्काल प्रभाव से बंद करने का आदेश दिया है। हरियाणा के एनसीआर जिलों में वायु गुणवत्ता के प्रबंधन के उपायों पर सरकार के आदेश के बाद अगले आदेश तक गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत और झज्जर में स्कूल बंद रहेंगे। आदेश में कहा गया कि ये प्रतिबंध अगले आदेश तक हरियाणा के सभी 14 एनसीआर जिलों में सख्ती से लागू रहेंगे।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।