ताज़ा खबर
 

PMVVY Vs SCSS: प्रधानमंत्री वय वंदना योजना में निवेश या चुनें दूसरा विकल्प? ऐसे करें सही फैसला

PMVVY में मासिक पेंशन का विकल्प चुनने पर वरिष्ठ नागिरकों को स्कीम में 10 साल तक एक तय दर से गारंटीशुदा पेंशन मिलती है।

Author नई दिल्ली | Published on: November 17, 2019 4:16 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

प्रधानमंत्री वय वंदन योजना (PMVVY) और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) वरिष्ठ नागरिकों के लिए दो लोकप्रिय निवेश विकल्प हैं। ऐसे में बहुत से निवेशकों की दुविधा रहती है किस योजना में निवेश किया जाए। ऐसे में हम यहां जानना चाहेंगे कि दोनों योजनाओं में क्या अंतर है। यहां बता दें कि दोनों योजनाओं में व्यक्तिगत निवेश की सीमा 15 लाख रुपए हैं मगर योजना की अवधि दोनों में अलग-अलग है।

PMVVY में मासिक पेंशन का विकल्प चुनने पर वरिष्ठ नागिरकों को स्कीम में 10 साल तक एक तय दर से गारंटीशुदा पेंशन मिलती है। यह स्कीम डेथ बेनिफिट की भी पेशकश करती है। इसके तहत नॉमिनी को खरीद मूल्य वापस किया जाता है। पहले यह पॉलिसी बहुत कम अवधि के लिए खुली थी। बाद में इसकी अवधि बढ़ाकर 31 मार्च, 2020 कर दी गई। इसी तरह SCSS योजना के तहत कोई नागरिक 15 लाख रुपए तक का निवेश कर सकता है। वर्तमान में इसपर मौजूदा ब्याज दर 8.6 फीसदी है। योजना की अवधि पांच साल है और इसे तीन साल के लिए आगे बढ़ाया जा सकता है।

पीएमवीवीवाई और एससीएसएस दोनों योजनाओं में 60 वर्ष या उससे अधिक आयु वाले नागरिक ही निवेश कर सकते हैं, हालांकि, एससीएसएस में कोई व्यक्ति जो वीआरएस या सेवानिवृत्ति के तहत सेवानिवृत्त हो चुका है, वह भी निवेश कर सकता है, लेकिन केवल रिटायरमेंट लाभ में ही निवेश किया जा सकता है।

SCSS में पांच साल के लिए एक लाख रुपए की जमा पर 51,000 रुपए ब्याज बनता है। यह ब्याज आय कर के दायरे में आती है। एसबीआई इकोरैप की रिपोर्ट में कहा गया है कि उचित यह होगा कि इस योजना में पूरी तरह कर छूट दी जाए। इससे सरकार को सिर्फ 3,092 करोड़ रुपए के राजस्व का नुकसान होगा। इसका सरकार के राजकोषीय घाटे पर मामूली 0.02 प्रतिशत का प्रभाव पड़ेगा।

PMVVY में निवेशकों को दस साल तक 8 फीसदी सालाना रिटर्न की गारंटी के साथ पेंशन दिया जाता है। इस योजना में निवेश करने वाले सीनियर सिटीजन मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर पेंशन ले सकते हैं। सरकार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक मार्च 2018 तक कुल 2.23 लाख वरिष्ठ नागरिक इस पेंशन योजना का लाभ उठा रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 PF TRANSFER है फायदे का सौदा, बनाता है आपको PENSION का हकदार, पढ़ें ये काम की खबर
2 LIC Jeevan Anand समेत कई बेहतरीन रिटर्न देने वाली POLICIES होने जा रही बंद! जानें क्यों
3 EPF ही नहीं, EPS में जमा पैसे का भी रखें ध्यान, जानिए इस फंड में जमा आपके पैसे को निकालने का तरीका
जस्‍ट नाउ
X