scorecardresearch

PMGKAY: अब 80 करोड़ लोगों को दिसंबर तक मिलेगा फ्री राशन, तीन महीने के लिए बढ़ाई गई स्‍कीम

Free Ration: केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ गरीबों को खुशखबरी दी है। फ्री राशन योजना को तीन महीने यानी कि दिसंबर, 2022 तक बढ़ा दिया गया है।

PMGKAY: अब 80 करोड़ लोगों को दिसंबर तक मिलेगा फ्री राशन, तीन महीने के लिए बढ़ाई गई स्‍कीम
80 करोड़ लोग ले रहे Free Ration का लाभ (फाइल फोटो)

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ लोगों को खुशखबरी दी है। फ्री राशन योजना को तीन महीने यानी कि दिसंबर, 2022 तक बढ़ा दिया गया है। कैबिनेट के इस फैसले से 44,700 करोड़ रुपये की लागत आएगी। पीएम गरीब कल्‍याण अन्‍न योजना के तहत 80 करोड़ गरीबों को हर महीने 5 किलो गेहूं और चावल दिया जा रहा है।

सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने मंत्रिमंडल की बैठक के बाद जानकारी देते हुए बताया कि PMGKA योजना शुक्रवार, 30 सितंबर को समाप्त हो रही थी। इसे अक्टूबर से दिसंबर, 2022 तक के बढ़ा दिया गया है। कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन से प्रभावित गरीबों को राहत देने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना अप्रैल, 2020 में शुरुआत की गई थी।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि इस योजना को राष्‍ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कवर किया गया है। दिसंबर तक 112 टन का अनाज बंटेगा, जिसपर कुल खर्च 44,762 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। यह नेशनल फूड सिक्‍योरिटी एक्‍ट तहत मिलने वाले कोटे से अलग है। कैबिनेट के इस फैसले से 75 फीसदी ग्रामीण इलाकों और 50 फीसदी शहरी इलाकों में दिसंबर तक फ्री राशन दिया जाएगा।

पीएम गरीब कल्‍याण अन्न योजना दुनिया का सबसे बड़ा फूड प्रोग्राम है, जिसके तहत गरीबों को 5 किलो चावल और गेहूं फ्री में दिया जााता है। अभी तक इस योजना के तहत 3.40 लाख करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं।

तीन रेलवे स्‍टेशनों का होगा रिडेवलपमेंट

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने निर्देश देते हुए कहा कि तीन रेलवे स्टेशनों के रिडेवलपमेंट का टेंडर 10 दिन में जारी किया जाए। इसमें दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद रेलवे स्टेशनों शामिल है और रिडेवलपमेंट में करीब 2.5 से 3.5 साल लगेंगे। रेलवे स्टेशनों के रिडेवलपमेंट के लिए मॉड्यूलर तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा।

कितनी रकम खर्च करने की योजना

तीन स्‍टेशनों के रिडेवलपमेंट परियोजना में लगभग 10,000 करोड़ रुपये का निवेश शामिल है। इसके साथ ही नई दिल्ली रेलवे स्टेशन बसों, ऑटो और मेट्रो रेल सेवाओं के साथ ट्रेन सेवाओं को जोड़ा जाएगा। वहीं सीएसएमटी की हेरिटेज बिल्डिंग को छोड़कर आसपास की इमारतों को फिर से विकसित किया जाएगा।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 28-09-2022 at 04:22:01 pm
अपडेट