PM Kisan Yojana: आपकी इन गलतियों की वजह से अटक गई 2 हजार रुपये की किस्त! जानें क्या हैं ये

PM Kisan Yojana: किस्त न मिलने के पीछे अक्सर आवेदनकर्ताओं की लापरवाही ही देखने को मिलती रही है। आवेदन करते वक्त किसान सही जानकारियों को दर्ज नहीं करते जिस वजह से किस्त रोक ली जाती है।

indian currency notesभारतीय करंसी।

PM Kisan Yojana: प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी किसानों को शुक्रवार (25 दिसंबर 2020) को सातवीं किस्त जारी कर दी गई। करीब 9 करोड़ किसानों को 2 हजार रुपये की रकम जारी की गई है। किसानों के खातों में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) के तहत यह रकम जारी की गई है।

अगर आपने भी इस स्कीम के लिए आवेदन किया था और अबतक किस्त नहीं मिली है? दरअसल किस्त न मिलने के पीछे अक्सर आवेदनकर्ताओं की लापरवाही ही देखने को मिलती रही है। आवेदन करते वक्त किसान सही जानकारियों को दर्ज नहीं करते जिस वजह से किस्त रोक ली जाती है।

किसान आधार नंबर, बैंक खाता संख्या आदि जानकारियां गलत दर्ज कर देते हैं। कई आवेदन तो इसलिए रिजेक्ट कर दिए जाते हैं क्योंकि किसान का आवेदन फॉर्म और आधार में नाम की स्पेलिंग अलग-अलग होती है। हालांकि नियमों के मुताबिक अगर किसी किसान का नाम लाभार्थी सूची में शामिल कर लिया जाता है तो उसे अगली किस्त के साथ अटकी हुई किस्त का पैसा जारी कर दिया जाता है।

ऐसे पता लगाएं कहां हुई है गलती: पीएम किसान योजना के आधिकारिक पोर्टल (pmkisan.gov.in) के जरिए आवेदन करते वक्त हुई गलतियों का पता लगाया जा सकता है। ऑनलाइन आवेदन करने वाले लाभार्थी किसान वेबसाइट के ‘Farmers Corner’ विकल्प में मौजूद ‘Beneficiary status’ पर आधार, बैंक खाता, नाम आदि की जानकारियों को दोबारा से चेक कर सकते हैं। कोई गलती मिलती है तो इसे ऑनलाइन ही सुधार लें।

Next Stories
1 LIC के इस एन्यूटी प्लान में निवेश कर पा सकते हैं बढ़िया रिटर्न! जानें कैसे
2 यहां से ले सकते हैं FASTag, नए साल पर इसके बिना लगेगी चपत!
3 यहां 20 से 30 हजार रुपये की रेंज में मिल रही पुरानी बाइक, उठाएं फायदा
आज का राशिफल
X