ताज़ा खबर
 

PAN Card के नाम पर नहीं ले लिए गए ज्यादा रुपये, यहां जानें असल फीस

PAN Card Fees: भारत में पैन कार्ड (फिजिकल कॉपी) घर पर महज 91 रुपये में बनाकर पहुंचा दिया जाता है। हालांकि, इस रकम में टैक्स शामिल नहीं है। वहीं, कर के साथ कुल शुल्क 107 रुपए हो जाता है।

पैन कार्ड के हैं कई फायदे

PAN Card Fees: पैन कार्ड एक बेहद ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है। इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) फाइल करना हो, 50 हजार रुपये से ज्यादा का लेन-देन आदि काम के लिए पैन कार्ड की मांग की जाती है। पैन कार्ड एक सरकारी दस्तावेज है लिहाजा इसे एक आईडी प्रूफ के तौर पर भी हाथों-हाथ स्वीकार जाता है।

पैन कार्ड में एक पैनकार्डधारक की कई जानकारियां दर्ज होती हैं। पैन कार्ड में अलग-अलग कोड और नंबर दर्ज होते हैं। इस कार्ड में 10 डिजिट का अल्फान्यूमेरिक नंबर होता है। पैन कार्ड की इतनी अहमियत है तो लिहाजा इसकी आपको भी कभी न कभी जरूरत पड़ सकती है।

भारत सरकार के आयकर विभाग (आईटीडी) ने एनएसडीएल ई-गवर्नेंस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड और यूटीआई इंफ्रास्ट्रक्चर टेक्नोलॉजीज सर्विसेज लिमिटेड को इसके लिए नियुक्त किया है।

इन दोनों के अलावा पैन कार्ड बनाने के लिए कोई तीसरी कंपनी नहीं है। वहीं अक्सर देखने को मिलता है कि जानकारी के अभाव में लोगों से पैन कार्ड आवेदन के दौरान ज्यादा पैसे वसूल लिए जाते हैं जबकि रेट पहले से तय हैं।

भारत में पैन कार्ड (फिजिकल कॉपी) घर पर महज 91 रुपये में बनाकर पहुंचा दिया जाता है। हालांकि, इस रकम में टैक्स शामिल नहीं है। वहीं, कर के साथ कुल शुल्क 107 रुपए हो जाता है। यानी कि 110 रुपए से भी कम में पैन नंबर जारी किया जाता है। वहीं अगर किसी को विदेश में पैन कार्ड में मंगवाना है तो इसके लिए टैक्स सहित 1,017 रुपये लगेंगे।

Next Stories
1 अगर आपके पास भी है ये कार्ड तो आपके लेन-देन पर पड़ने जा रहा ये असर, जानें क्या है ये
2 Stand Up India स्कीम: अबतक लोगों को मिला 22,136 करोड़ रुपए का लोन, जानें आप कैसे कर सकते हैं आवेदन
3 Post Office किसान विकास पत्र स्कीम में निवेश के बाद मैच्योरिटी पर पाएं दोगुना रिटर्न, उठाएं फायदा
ये पढ़ा क्या?
X