खराब सिबिल स्कोर की वजह से नहीं मिल रहा बैंक लोन! तो जानिए इसे 5 स्टेप में ठीक करने का तरीका

30 फीसदी सिबिल स्कोर इस बात पर निर्भर करता है कि, आप वक्त पर कर्ज चुका रहे हैं या नहीं। 25% सिक्योर्ड या अनसिक्योर्ड लोन पर, 25%क्रेडिट एक्सपोजर पर और 20% कर्ज के इस्तेमाल पर निर्भर करता है।

CIBIL score, Loan, Bank loan, EMI
अगर आपका सिबिल स्कोर 750 से कम है तो आपको कोई बैंक लोन नहीं देगा।

मकान, कार, बाइक या कोई भी महंगी चीज खरीदने के लिए अक्सर लोगों को बैंक से लोन लेने की जरूरत पड़ती है। जिसमें आपको ज्यादातर बार लोन मिल भी जाता है। लेकिन कई बार आपको बैंक की ओर से बताया जाता है कि, आपका सिबिल स्कोर अच्छा नहीं है। इसलिए बैंक आपको लोन देने में असमर्थ है। आपको बता दें किसी भी तरह का लोन देने से पहले सभी बैंक और फाइनेंस कंपनी सबसे पहले आपका सिबिल स्कोर चेक करती हैं। जिसमें अगर आपका स्कोर 750 से ज्यादा है। तो बैंक आपको आसानी से लोन दे देती है। वहीं अगर आपका स्कोर 750 से कम रहता है तो बैंक लोन देने में आनाकानी करने लगती है। ऐसे में अगर आपका भी सिबिल स्कोर 750 से कम है तो हम आपको कुछ ऐसी स्टेप्स बताने जा रहे हैं। जिससे आप कुछ ही दिनों में अपना सिबिल स्कोर ठीक कर सकते हैं।

कैसे खराब होता है सिबिल स्कोर – अक्सर लोग बैंक से लोन ले लेते हैं या फिर क्रेडिड कार्ड से लंबी-चौड़ी खरीदारी कर लेते थे। लेकिन कई बार बैंक लोन और क्रेडिड कार्ड का भुगतान समय पर नहीं कर पाते। जिसका सीधा असर आपके क्रेडिट स्कोर पर पड़ता है। अगर आपने भी लोन या क्रेडिड कार्ड से शॉपिंग की है तो आपको इसका समय पर भुगतान करना चाहिए।

क्रेडिड कार्ड बिल और EMI का भुगतान समय पर करें- अगर आपने किसी बैंक से लोन लिया है और उसका भुगतान समय पर नहीं कर पाए हैं। तो आपका सिबिल स्कोर खराब हो जाएगा। जिसे ठीक करने के लिए आपको जल्दी से जल्दी समय पर EMI का भुगतान करना शुरू कर देना चाहिए।

क्रेडिट लिमिट का 30 फीसदी ही करें इस्तेमाल – जब आप क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करते हैं। तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि, क्रेडिट लिमिट का 30 फीसदी ही खर्च करना चाहिए। अगर आपने 30 फीसदी से ज्यादा खर्च कर दिया है। तो आपको जल्दी से जल्दी इसका भुगतान कर देना चाहिए। वहीं बाकी बकाया का EMI से भुगतान कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: LIC के इस स्‍कीम में हर दिन 29 रुपये का करें निवेश, मैच्‍योरिटी पर मिलेंगे करीब 4 लाख

लोन ना लेने पर भी खराब होता है सिबिल स्कोर – ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि, बैड लोन की वजह से ही सिबिल स्कोर खराब होता है। लेकिन ऐसा नहीं है, कई बार लोन नहीं लेने से भी आपका सिबिल स्कोर खराब होता है। ऐसे में आपको छोटे-छोटे लोन समय पर लेते रहने चाहिए और इन्हें समय पर चुकता भी कर देना चाहिए। जिससे आपको सिबिल स्कोर अपने आप ठीक हो जाएगा।

कभी भी क्रेडिट कार्ड बंद न करें- आपको हमेशा अपना क्रेडिट कार्ड बंद करने से बचना चाहिए। इसके साथ ही क्रेडिट कॉर्ड से समय-समय पर शॉपिंग भी करते रहना चाहिए और बिलों का भुगतान करते रहना चाहिए।

यह भी पढ़ें: इनकम टैक्स रिटर्न में नहीं दी दिवाली पर मिले गिफ्ट्स की जानकारी तो लगेगा जुर्माना, जानिए सबकुछ

इस बात पर सबसे ज्यादा निर्भर करता है सिबिल स्कोर – 30 फीसदी सिबिल स्कोर इस बात पर निर्भर करता है कि, आप वक्त पर कर्ज चुका रहे हैं या नहीं। 25% सिक्योर्ड या अनसिक्योर्ड लोन पर, 25%क्रेडिट एक्सपोजर पर और 20% कर्ज के इस्तेमाल पर निर्भर करता है।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
LIC के इस प्लान में एकमुश्त पैसा जमा कर आजीवन पाएं 5 हजार रुपये, जानें पूरी डिटेलsamudrik shastra, money, moles meaning, lucky moles, body moles, astrology
अपडेट