scorecardresearch

PM Awas Yojana की नई लिस्‍ट जारी, ऐसे चेक करें आपका नाम है या नहीं?

PMAY-G योजना के तहत लाभार्थियों की नई लिस्‍ट 2022-23 जारी हो चुकी है। अगर आप भी लिस्‍ट में अपना नाम चेक करना चाहते हैं तो इन तरीकों से आप ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते हैं।

PM Awas Yojana List | PM Awas Scheme
PM Awas Yojana के तहत ऐसे करें अपना नाम (फोटो- पीएम आवास योजना की वेबसाइट)

पीएम आवास योजना के तहत सभी गरीब परिवारों को फ्री में मकान दिया जाता है, इसके लिए किस्‍तों में रकम दी जाती है। केंद्र सरकार ने 1 अप्रैल 2016 से ग्रामीण आवास योजना की शुरुआत की थी। इसके तहत वर्ष 2024 तक “सभी को आवास” प्रदान करने का उद्देश्‍य है। जानकारी के अनुसार, 2.95 करोड़ पीएमएवाई-ग्रामीण के तहत घरों को पूरा किया जाएगा। वहीं 21 फरवरी 2022 तक कुल 1.73 करोड़ घरों को पूरा किया जा चुका है।

PMAY-G के तहत चयन 2011 के आंकड़ों के अनुसार, आवास न होने की स्थिति में किया जाता है। इसके बाद लाभार्थियों की सूची को ग्राम सभा द्वारा मान्य किया जाता है। अगर आप भी पीएम आवास योजना के तहत लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको पहले पीएम आवास योजना के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अप्‍लाई करना होगा। इसके बाद आपका नाम लिस्‍ट में आ सकता है, जिसे गांव के सभा द्वारा फाइनल किया जाएगा।

PMAY-G लाभार्थियों की लिस्‍ट कैसे चेक करें या डाउनलोड करें

  • सबसे पहले आधिकारिक PMAY-G वेबसाइट का होम पेज पर जाएं।
  • इसके बाद शीर्ष पर आपको “Awaassoft” टैब मिलेगा।
  • आवास टैब पर क्लिक करें और फिर “रिपोर्ट” पर क्लिक करें।
  • अब आपको एक नए पेज पर फिर से भेजा जाएगा।
  • यहां H सेक्शन में “सोशल ऑडिट रिपोर्ट” पर जाएं।
  • अब “वेरिफिकेशन के लिए लाभार्थी विवरण” फॉर्म पर क्लिक करें।
  • इसके बाद अपना राज्य, पंचायत, उपखंड विवरण, वर्ष चुनें और कैप्चा कोड भरें और सबमिट कर दें।
  • अब आपके सामने पूरी सूची होगी, जिसे देख सकते हैं।

बता दें कि PMAY-G योजना के तहत लाभार्थियों की नई लिस्‍ट 2022-23 जारी हो चुकी है। अगर आप भी लिस्‍ट में अपना नाम चेक करना चाहते हैं तो ऊपर बताए गए तरीके से आप इसके ऑफिशियल वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं।

वहीं एमआईएस-आवास सॉफ्ट और आवास ऐप के माध्‍यम से भी लोगों को अप्‍लाई करने से लेकर लिस्‍ट चेक करने और अन्‍य सु‍विधाएं दी जाती हैं। इस योजना के तहत निगरानी शुरू से अंत तक ई-गवर्नेंस समाधान, आवास सॉफ्ट और आवास ऐप के माध्यम से की जाती है।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X