ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी सरकार ने बढ़ाई ब्याज दर, अब EPFO पर मिलेगा 8.65% इंटरेस्ट, नोटिस जारी

मंत्री ने कहा कि "इस फैसले के बाद छह करोड़ अंशधारकों के खातों में 2018-19 के लिए 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर के हिसाब से 54,000 करोड़ रुपये डाले जाएंगे।’’

Author नई दिल्ली | September 24, 2019 6:58 PM
santosh gangwarकेन्द्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार।

श्रम मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) पर ब्याज दर को बढ़ाने का फैसला किया है। सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए ब्याज दर में 0.10% की बढ़ोत्तरी करते हुए इसे 8.65 प्रतिशत कर दिया है। श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने मंगलवार को कहा कि अब बढ़ी हुई ब्याज दर के हिसाब से कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के छह करोड़ अंशधारकों के खातों में पैसा डाला जाएगा।

बता दें कि अभी तक ईपीएफओ 2017-18 के लिए मंजूर ब्याज दर 8.55 प्रतिशत के हिसाब से ईपीएफ निकासी दावों का निपटान कर रहा था। अब 2018-19 के लिए ईपीएफओ दावों का निपटान ऊंची 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर पर कर सकेगा। गंगवार ने बयान में कहा,‘‘मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि श्रम मंत्रालय ने 2018-19 के लिए ईपीएफ पर 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर को अधिसूचित कर दिया है। यह 2017-18 की तुलना में 0.10 प्रतिशत अधिक है।’’

मंत्री ने कहा कि “इस फैसले के बाद छह करोड़ अंशधारकों के खातों में 2018-19 के लिए 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर के हिसाब से 54,000 करोड़ रुपये डाले जाएंगे।’’ न्यूज एजेंसी पीटीआई ने 19 सितंबर को एक खबर में बताया था कि सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए ईपीएफ पर 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर को मंजूरी दे दी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 NEW TRAFFIC RULES: आपके स्मार्टफोन में होंगे ये दो ऐप तो नहीं कटेगा चालान! जान लीजिए डिटेल्स
2 SBI ATM Cash Withdrawal Limit: यूज करते हों इनमें से कोई भी डेबिट कार्ड, जान लें ये जरूरी नियम
3 SIM SWAP FRAUD से खाली हो सकता है आपका बैंक खाता, JIO, AIRTEL, VODA यूजर्स उठा लें यह कदम
यह पढ़ा क्या?
X