ताज़ा खबर
 

LIC जीवन शांति पॉलिसी में एकबार निवेश कर पा सकते हैं हर महीने 50 हजार रु पेंशन, जिंदगी भर खाते में आएंगे पैसे

LIC's Jeevan Shanti Policy, Life Insurance Corporation of India Pension Plan: पॉलिसी के तहत ग्राहक को दो तरह से रिटर्न हासिल करने के विकल्प मिलते हैं। पहला ये कि वे तुरंत पेंशन हासिल करे और दूसरा कुछ समय बाद। एलआईसी की भाषा में इसे इमीडिएट और डेफ्फर्ड एन्युटी कहा जाता है।

(फोटो: रॉयटर्स/फाइल)

LIC’s Jeevan Shanti Policy, Life Insurance Corporation of India Pension Plan: लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) देश की सबसे भरोसेमंद बीमा कंपनियों में से एक है। एलआईसी ग्राहकों को अलग-अलग पॉलिसी बेचकर मुनाफा कमाती है। कंपनी टर्म पॉलिसी, हेल्थ, एंडोमेंट, मनी बैक, चाइल्ड और पेंशन आदि पॉलिसी ग्राहकों को मुहैया करवाती है। अगर आप आज थोड़ी सी बचत कर एलआईसी की की पॉलिसी में निवेश करते हैं तो भविष्य में आपको बेहतर रिटर्न हासिल होता है।

लेकिन एलआईसी की पेंशन पॉलिसी में अगर आप एकबार निवेश करते हैं तो आपको जिंदगी भर रिटर्न हासिल होता है। एलआईसी की पेंशन पॉलिसी ‘जीवन शांति’ के जरिए ग्राहकों को यह फायदा मिलता है। इसमें ग्राहक को सिर्फ एक बार निवेश करना होता है और हर महीने खाते में पेंशन के रूप में रिटर्न मिलता रहता है।

इस पॉलिसी को लेने के लिए ग्राहकों की पात्रता तय की गई है जो कि हर पॉलिसी में अलग-अलग होती है। इस पॉलिसी में न्यूनतम 30 वर्ष और अधिकतम 85 वर्ष तक के व्यक्ति निवेश कर सकते हैं। लोन, पेंशन शुरू होने के 1 वर्ष बाद और इसे सरेंडर, पेंशन शुरू होने के 3 महीने बाद किया जा सकता है। खास बात यह है कि इस पॉलिसी के साथ ग्राहकों को लोन की सुविधा भी मिलती है। इस पॉलिसी की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें निवेश कर आप तुरंत पेंशन पा सकते हैं।

दरअसल इस पॉलिसी के तहत ग्राहक को दो तरह से रिटर्न हासिल करने के विकल्प मिलते हैं। पहला ये कि वे तुरंत पेंशन हासिल करे और दूसरा कुछ समय बाद। एलआईसी की भाषा में इसे इमीडिएट और डेफ्फर्ड एन्युटी कहा जाता है। इमीडिएट का मतलब है कि पॉलिसी लेने के तुरंत बाद ही पेंशन तो वहीं डेफ्फर्ड एन्युटी का मतलब है पॉलिसी लेने के कुछ समय (5, 10, 15, 20 साल) बाद पेंशन का भुगतान।

इमीडिएट एन्युटी में ग्राहकों 7 अलग-अलग विकल्प मिलते हैं जिन्हें वे अपनी जरूरत और समझ के आधार पर चुन सकते हैं। डिफरमेंट प्लान के लिए अधिकतम उम्र 79 साल होनी चाहिए। न्यूनतम 30 वर्ष औरअधिकतम 85 वर्ष तक के व्यक्ति इस पॉलिसी में निवेश कर सकते हैं। पॉलिसी में न्यूनतम डेढ़ लाख रुपये और अधिकतम कितना भी निवेश किया जा सकता है। लोन की व्यवस्था पेंशन शुरू होने के 1 वर्ष बाद हो जाती है। पॉलिसी को सरेंडर तीन महीने के बाद किया जा सकता है।

ऐसे पा सकते हैं 50 हजार रुपये पेंशन

अगर आप इस पॉलिसी में 1,00,78,200 रुपये का एकमुश्त निवेश करते हैं तो आपको 50,243 रुपये प्रति महीना पेंशन मिल सकती है। इसके लिए आपको ‘A’ यानी Immediate Annuity for life (प्रति महीने पेंशन) विकल्प को चुनना होगा।

उम्र: 37
सम एश्योर्ड: 9900000
एकमुश्त प्रीमियिम: 10078200

पेंशन:
वार्षिक: 621720
अर्धवार्षिक: 305910
तिमाही: 151099
मासिक: 50243

मान लीजिए अगर कोई 37 साल का व्यक्ति ऑप्शन ‘A’ यानी प्रति महीने पेंशन वाले विकल्प को चुनता है। इसके साथ ही वह 9900000 रुपये के सम एश्योर्ड विकल्प को चुनता है। तो उसे 10078200 रुपये के प्रीमियम का भुगतान करना होगा। इस निवेश के बाद उसे प्रति माह 50,243 रुपये की पेंशन मिलेगी। यह पेंशन जब तक पॉलिसीधार जीवित रहता है तब तक मिलेगी। वहीं मृत्यु के बाद यह पेंशन आना बंद हो जाएगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 इन सरकारी कर्मचारियों के लिए आई ये खुशखबरी
2 Indian Railways, IRCTC: 151 प्राइवेट ट्रेनों के एलान के बाद अब अगले 3 साल में चलेंगी 44 वंदे भारत ट्रेनें, जानें रेलवे की प्लानिंग
3 PM Fasal Bima Yojana का फायदा उठाने लिए अब सिर्फ दो दिन का समय बाकी, ऐसे करें अप्लाई
IPL 2020 LIVE
X