ताज़ा खबर
 

LIC की जीवन शांति पॉलिसी में एक किश्त देकर जिंदगी भर हर महीने पाएं पेंशन, जानें क्या है ये पूरा प्लान

LIC Jeevan Shanti: जीवन शांति पॉलिसी लेते वक्त पॉलिसीधारक के पास पेंशन को लेकर दो विकल्प मौजूद होते हैं। पहला इमीडियेट दूसरा डेफ्फर्ड एन्युटी। इमीडियेट का मतलब है कि पॉलिसी लेने के तुरंत बाद ही पेंशन की प्राप्ति वहीं डेफ्फर्ड एन्युटी का मतलब है पॉलिसी लेने के कुछ समय (5, 10, 15, 20 साल) बाद पेंशन का भुगतान।

lic tech term planभारतीय करंसी।

LIC Jeevan Shanti: लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन देश की सबसे भरोसेमंद बीमा कंपनी में से एक है। एलआईसी की पॉलिसी में निवेश करने पर ग्राहकों को अलग-अलग फायदे मिलते हैं। एलआईसी ने अपनी पॉलिसी को समाज के हर वर्ग को ध्यान में रखकर तैयार किया है। लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ग्राहकों को एंडोमेंट, टर्म, लाइफ इंश्योरेंस और पेंशन आदि पॉलिसी मुहैया करवाती है। आज हम आपसे एलआईसी की पेंशन पॉलिसी के बार में बात करेंगे। एलआईसी की पेंशन पॉलिसी का नाम ‘जीवन शांति’ है। इसमें एकमुश्त राशि देकर आप जिंदगीभर पेंशन पा सकते हैं।

इस पॉलिसी को लेते वक्त पॉलिसीधारक के पास पेंशन को लेकर दो विकल्प मौजूद होते हैं। पहला इमीडिएट दूसरा डेफ्फर्ड एन्युटी। इमीडिएट का मतलब है कि पॉलिसी लेने के तुरंत बाद ही पेंशन की प्राप्ति वहीं डेफ्फर्ड एन्युटी का मतलब है पॉलिसी लेने के कुछ समय (5, 10, 15, 20 साल) बाद पेंशन का भुगतान। इमीडिएट एन्युटी में 7 ऑप्शन मिलते हैं। वहीं डेफर्ड एन्युटी में दो तरह के विकल्प होते हैं जिसमें ‘सिंगल लाइफ के लिए डेफर्ड एन्युटी’ और दूसरा ‘जॉइंट लाइफ के लिए डेफर्ड एन्युटी’ है।

यह सिंगल प्रीमियम पेंशन प्लान है लिहाजा इसमें एकबार ही प्रीमियम भरना होता है। इसमें अधिकतम पेंशन की कोई सीमा नहीं। इस प्लान में न्यूनतम 30 वर्ष का व्यक्ति निवेश कर सकता है तो वहीं अधिकतम 85 साल का व्यक्ति। इस योजना के तहत 1.5 लाख से लेकर कितना भी निवेश कर सकते हैं। अब एक उदाहरण से समझते हैं कि इस पॉलिसी में निवेशकर्ता को कैसे फायदा पहुंचता है।

मान लीजिए कोई 50 साल का व्यक्ति ऑप्शन ‘A’ यानी प्रति महीने पेंशन वाले विकल्प को चुनता है। इसके साथ ही वह 10 लाख सम एश्योर्ड विकल्प को चुनता है। तो उसे 10 लाख 18 हजार रुपये के प्रीमियम का भुगतान करना होगा। इस निवेश के बाद उन्हें प्रति माह 5,617 रुपये की पेंशन मिलेगी। यह पेंशन जब तक पॉलिसीधार जीवित रहता है तब तक मिलेगी। वहीं मृत्यु के बाद यह पेंशन आना बंद हो जाएगी। बता दें कि इस पॉलिसी में लोन की सुविधा भी मिलती है। इसके साथ ही इस पॉलिसी में 3 माह बाद कभी भी सरेंडर किया जा सकता है वह भी बिना किसी मेडिकल डॉक्यूमेंट जमा करवाए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 30 जून से पहले निपटा लें पैसों से जुड़े ये काम, वरना होगा नुकसान
2 ATM में बिना बटन दबाए निकलेगा कैश, बैंकों ने शुरू की तैयारी
3 LPG गैस सिलिंडर पर 50 लाख रुपये तक का बीमा क्लेम कैसे मिलेगा? यहां जानें
ये पढ़ा क्या?
X