ताज़ा खबर
 

LIC के Jeevan Shiromani प्लान में मिलते हैं ढेरों बेनेफिट्स, कवर होती हैं 15 गंभीर बीमारियां! जानें डिटेल्स

LIC's Jeevan Shiromani Plan in Hindi: सर्वाइवल की स्थिति में पॉलिसी के तहत बीच में समय-समय पर दी जाने वाली राशि भी मिलेगी। और, मैच्योरिटी पर एकमुश्त रकम दी जाएगी।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

भारतीय जीवन बीमा निगम (Life Insurance Corporation of India) का जीवन शिरोमणि (Jeevan Shiromani – UIN: 512N315V01) नॉन लिंक्ड और सीमित प्रीमियम पेमेंट मनी बैक जीवन बीमा प्लान है। पॉलिसीधारक को इसमें सुरक्षा और बचत का कॉम्बो मिलता है। यह योजना खासतौर पर अधिक नेटवर्थ वालों के लिए है, जिसमें ग्राहक को संकट/जरूरत/किसी के निधन के वक्त आर्थिक मदद (पॉलिसी टर्म के दौरान) मुहैया कराई जाती है।

सर्वाइवल की स्थिति में पॉलिसी के तहत बीच में समय-समय पर दी जाने वाली राशि भी मिलेगी। और, मैच्योरिटी पर एकमुश्त रकम दी जाएगी। इतना ही नहीं, इस प्लान के तहत किसी खास गंभीर बीमारी के डायग्नोसिस पर चयनित बेसिक सम एश्योर्ड के 10 प्रतिशत के बराबर की एकमुश्त रकम भी पॉलिसीधारक को मुहैया कराई जाती है।

पॉलिसी के तहत कौन-कौन से मिलते हैं लाभ?

1- डेथ बेनेफिटः प्लान के शुरुआती 5 सालों में अगर पॉलिसीधारक की मृत्यु हो जाती है, तब डेथ बेनेफिट को “Sum Assured on Death” माना जाएगा और जमा रकम भी दी जाएगी। वहीं, पॉलिसी के पांच साल पूरे होने पर मैच्योरिटी से पहले निधन की स्थिति में भी डेथ बेनेफिट ‘सम एश्योर्ड ऑन डेथ’ कहा जाएगा और गारंटीड रकम के साथ लॉयल्टी भी अतिरिक्त (अगर होगी तब) मिलेगी।

2- सर्वाइवल बेनेफिटः 14 साल की पॉलिसी में 10वें और 12वें साल पर बेसिक सम एश्योर्ड की 30% रकम मिलेगी। 18 साल के प्लान में 14वें और 16वें वर्ष पर बेसिक सम एश्योर्ड पर 40 फीसदी राशि दी जाएगी। वहीं, 20 साल की योजना लेने पर 16वें और 18वें साल पर बेसिक सम एश्योर्ड की 45 प्रतिशत रकम मिलेगी।

3- मैच्योरिटी बेनेफिटः पॉलिसी टर्म पूरा होने पर चुकाए गए सभी प्रीमियम की रकम ‘सम एश्योर्ड ऑन मैच्योरिटी’ के तौर पर मिलेगी, जबकि अतरिक्त चीजें मसलन लॉयल्टी आदि (अगर हुईं तो) भी दी जाएंगी। 14 साल वाले प्लान में 40 फीसदी रकम बेसिक सम एश्योर्ड के तौर पर मिलेगी। 18 वर्ष की योजना में बेसिक सम एश्योर्ड का 20 प्रतिशत हिस्सा मिलेगा, जबकि 20 साल के प्लान में यह आंकड़ा 10% रहेगा।

4- प्लान के तहत कुछ ‘इनबिल्ट क्रिटिकल इलनेस बेनेफिट’ भी हैं। इस लाभ के तहत लगभग 15 तरह की गंभीर बीमारियां कवर होती हैं और पॉलिसीधारक को उसी के तहत लाभ मिलता है। इन सभी ’15 Critical Illness’ के नाम, परिभाषा और शर्तों से जुड़ी सूची आप एलआईसी की साइट पर उक्त प्लान के डॉक्यूमेंट में पढ़ सकते हैं। इतना ही नहीं, प्लान के तहत कुछ ऑप्शनल बेनेफिट भी दिए जाते हैं, जिसमें राइडर बेनेफिट, सर्वाइवल बेनेफिट स्थगित करना, सेटलमेंट (मैच्योरिटी बेनेफिट के लिए) और डेथ बेनेफिट किश्तों में पाने का विकल्प रहता है।

ये सब भी जान लें:

न्यूनतम बेसिक सम एश्योर्ड – 100,00,000 रुपए।
अधिकतम बेसिक सम एश्योर्ड – कोई सीमा नहीं।
पॉलिसी टर्म – 14, 16, 18 और 20 साल।
न्यूनतम उम्र – 18 साल (पूरा होना जरूरी)
अधिकतम आयु – 55 साल

पॉलिसी प्रीमियम सालाना, अर्धवार्षिक, तिमाही और मासिक भी चुकाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 IRCTC ने पेश किया पूर्वोत्तर का ‘स्कॉटलैंड’ घूमने का स्पेशल ऑफर, जानें क्या-क्या है पैकेज में शामिल
2 SBI ने FD के बाद अब RD की दरों में भी कटौती, देखें ये है नई दरें
3 आपके FASTag में बचा है कितना बैलेंस? जानने के लिए जारीकर्ता बैंकों के हिसाब से इन नंबर्स पर करें मिस्ड कॉल
ये पढ़ा क्या?
X