ताज़ा खबर
 

LIC Jeevan Shanti पॉलिसी में एकमुश्त पेमेंट करके पा सकते हैं तुरंत पेंशन, जानें अन्य फायदे

LIC Jeevan Shanti Pension Policy: इस पॉलिसी में आप एकमुश्त राशि भरकर तुरंत पेंशन पा सकते हैं। यही इस पॉलिसी की सबसे बड़ी खासियत है। हालांकि आपको इस पॉलिसी में अलग-अलग विकल्प मिलते हैं।

lic, lic jeevan shanti scheme, lic new jeevan shanto plan, lic jeevan shanto calculator, LIC Jeevan Shanti, LIC jeevan shanti, LIC, scheme, invest, one time invest, pension, LIC,LIC Jeevan Shanti, LIC Jeevan Shanti Plan, LIC Pension Scheme, LIC Tax Benefits, LIC policy, lic scheme, LIC premium, insur, LIC India, LIC jeevan shanti review, LIC Jeevan shanti Benefitsभारतीय करंसी।

LIC Jeevan Shanti Pension Policy: लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) देशी की सबसे भरोसेमंद इंश्योरेंस कंपनियों में से एक है। एलआईसी अलग-अलग पॉलिसी मुहैया कराती है। ये पॉलिसी अमीर से लेकर गरीब तबके को जोड़ती है। यही वजह है कि एलआईसी की पॉलिसी में हर वर्ग के लोग निवेश करते हैं। एलआईसी ग्राहकों को एडोमेंट, टर्म, हेल्थ लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी मुहैया करवाती है। इसके अलावा लोगों की पेंशन की चिंता को दूर करने के लिए भी एलआईसी पेंशन पॉलिसी भी बेचती है।

एलआईसी की पेंशन पॉलिसी को कुछ इस तरह से डिजाइन किया गया है जिससे पॉलिसीधारक को बेहतर रिटर्न मिल सके। यूं तो एलआईसी की तमाम पॉलिसी हैं लेकिन आज हम बात करेंगे ‘जीवन शांति’ पॉलिसी की। इस पॉलिसी में आप एकमुश्त राशि भरकर तुरंत पेंशन पा सकते हैं। यही इस पॉलिसी की सबसे बड़ी खासियत है। हालांकि आपको इस पॉलिसी में अलग-अलग विकल्प मिलते हैं।

मसलन आप तुरंत पेंशन नहीं लेना चाहते और बाद में कुछ समय बाद पेंशन पाना चाहते हैं तो इसका भी विकल्प इस पॉलिसी में मिलता है। इस पॉलिसी को लेते वक्त पॉलिसीधारक के पास पेंशन को लेकर दो विकल्प मौजूद होते हैं।

पहला इमीडिएट दूसरा डेफ्फर्ड एन्युटी। इमीडिएट का मतलब है कि पॉलिसी लेने के तुरंत बाद ही पेंशन तो वहीं डेफ्फर्ड एन्युटी का मतलब है पॉलिसी लेने के कुछ समय (5, 10, 15, 20 साल) बाद पेंशन का भुगतान। इमीडिएट एन्युटी में 7 ऑप्शन मिलते हैं। वहीं डेफर्ड एन्युटी में दो तरह के विकल्प होते हैं जिसमें ‘सिंगल लाइफ के लिए डेफर्ड एन्युटी’ और दूसरा ‘जॉइंट लाइफ के लिए डेफर्ड एन्युटी’ है।

अगर वह इन सात विकल्पों में से ‘A’ यानी Immediate Annuity for life (प्रति महीने पेंशन) को चुनता है तो उसे इस तरह निवेश कर रिटर्न मिलेगा। यानि इस पॉलिसी के तहत तत्काल और ​आस्थगित (इमीडिएट एंड डेफर्ड) एन्युटी दोनों के लिए एन्युटी रेट पॉलिसी की शुरुआत में गारंटीड होते हैं। इसमें निवेश के लिए कम से कम 30 साल आपकी उम्र होनी चाहिए। वहीं, अगर तुरंत पेंशन चाहिए तो अधिकतम उम्र 85 साल होनी चाहिए।

उम्र: 50
सम एश्योर्ड: 10,00,000

एकमुश्त प्रीमियिम: 10,18,000

पेंशन:
वार्षिक: 6,98,00
अर्धवार्षिक: 34,250
तिमाही: 16,963
मासिक: 5,617

मान लीजिए कोई 50 साल का व्यक्ति ऑप्शन ‘A’ यानी प्रति महीने पेंशन वाले विकल्प को चुनता है। इसके साथ ही वह 10 लाख सम एश्योर्ड विकल्प को चुनता है। तो उसे 10,18,000 रुपये के प्रीमियम का भुगतान करना होगा। इस निवेश के बाद उन्हें प्रति माह 5617 रुपये की पेंशन मिलेगी।

यह पेंशन जब तक पॉलिसीधार जीवित रहता है तब तक मिलेगी। वहीं मृत्यु के बाद यह पेंशन आना बंद हो जाएगी। बता दें कि इस योजना के तहत 1.5 लाख से लेकर कितना भी निवेश कर सकते हैं। ऐसे में आप जितना ज्यादा निवेश करेंगे आपको उतनी ही ज्यादा पेंशन मिलेगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बैंक अकाउंट और मोबाइल वॉलेट से ऐसे डीलिंक करें अपना Aadhaar, ये है तरीका
2 IRCTC Indian Railway: प्राइवेट ट्रेनें इस दिन से पटरी पर दौड़ेंगी, मिलेंगी कई बेहतरीन सुविधाएं, इन कंपनियों को मिल सकता है टेंडर
3 Kisan Credit Card पर बकाया कर्ज 31 अगस्त तक जमा करें, देर करने पर होगा भारी नुकसान
यह पढ़ा क्या?
X