ताज़ा खबर
 

LIC Jeevan Amar रोजाना 86 रुपये के निवेश पर दे रहा 1 करोड़ रुपये का इंश्योरेंस, अलग से सालाना टैक्स बचत भी

खास बात ये है कि इस पॉलिसी में तंबाकू का सेवन करने वाले और तंबाकू का सेवन नहीं करने वाले पॉलिसीधारक के लिए प्रीमियम अलग-अलग होगा।

LIC, LIC JEEVAN AMAR,(सांकेतिक तस्वीर)

LIC ने अपने Jeevan Amar प्लान को बीती 5 अगस्त 2019 को लॉन्च किया था। इसका टेबल नंबर 855 है। बता दें कि पहले एलआईसी अनमोल जीवन, जिसका सम एश्योर्ड 24 लाख रुपए था, और अमूल्य जीवन टर्म प्लान संचालित करती थी, लेकिन एलआईसी ने अब अमूल्य जीवन टर्म प्लान को बंद कर उसकी जगह जीवन अमर टर्म प्लान पेश किया है।

इस पॉलिसी को लेने की न्यूनतम उम्र सीमा 18 साल है, वहीं अधिकतम सीमा 65 वर्ष तय की गई है। अधिकतम मैच्योरिटी उम्रसीमा 80 साल है। जीवन अमर पॉलिसी में न्यूनतम सम एश्योर्ड 25 लाख रुपए तय किया गया है। अधिकतम सम एश्योर्ड की कोई सीमा तय नहीं की गई है।

इस पॉलिसी का न्यूनतम पॉलिसी टर्म 10 साल है, वहीं अधिकतम पॉलिसी टर्म 40 साल है। इस पॉलिसी में ग्रेस पीरियड 30 दिन रखा गया है।

पॉलिसी को उदाहरण से समझने के लिए मान लीजिए कि यदि 40 साल का कोई व्यक्ति जीवन अमर पॉलिसी 20 साल के टर्म पीरियड रेगुलर प्रीमियम के साथ लेता है और सम एश्योर्ड 1 करोड़ रुपए चुनता है, तो उसे सालाना 31,477 रुपए और अर्द्धवार्षिक प्रीमिय के तौर पर 15,995  और यदि प्रतिदिन के आधार पर गणना करें तो यह आंकड़ा सिर्फ 86 रुपए बैठेगा। जिसमें जीएसटी शामिल है।

यदि पॉलिसी टर्म के बीच में क्लेम आता है तो नॉमिनी को एक करोड़ रुपए मिलेंगे। वहीं यदि बीमाधारक पॉलिसी टर्म पूरा होने तक जीवित रहता है तो उसे कुछ नहीं मिलेगा।

खास बात ये है कि इस पॉलिसी में तंबाकू का सेवन करने वाले और तंबाकू का सेवन नहीं करने वाले पॉलिसीधारक के लिए प्रीमियम अलग-अलग होगा। तंबाकू का सेवन करने वाले अधिक प्रीमियम देंगे और तंबाकू का सेवन नहीं करने वाले अपेक्षाकृत कम प्रीमियम देंगे।

इस पॉलिसी में महिलाओं को भी छूट दी गई है। मतलब महिलाओं को पुरुषों के मुकाबले कम प्रीमियम देना होगा। इस टर्म प्लान में पॉलिसीधारक को लेवल और बढ़े हुए सम एश्योर्ड का भी विकल्प मिलता है। इसका मतलब ये है कि लेवल सम एश्योर्ड में बीमाधारक जितना का सम एश्योर्ड प्लान लेता है, दावा करने पर उसे उतना ही सम एश्योर्ड मिलेगा।

वहीं बढ़े हुए सम एश्योर्ड में बीमाधारक का सम एश्योर्ड समय के साथ बढ़ता जाएगा। पहले पांच वर्ष में उसे फिक्स सम एश्योर्ड मिलेगा, जबकि 5 वर्ष के बाद हर साल प्रतिवर्ष 10 प्रतिशत बढ़कर और 15 सालों में दोगुना हो जाएगा।

इस बीमा के अन्तर्गत बीमाधारक को प्रीमियम पेमेंट के कई विकल्प मिलते हैं। इसमें रेगुलर, लिमिटेड और सिंगल प्रीमियम से भुगतान कर सकते हैं। रेगुलर प्रीमियम पेमेंट में जितने पीरियड की पॉलिसी ली है, उतने समय तक प्रीमियम का भुगतान करना होगा।

वहीं लिमिटेड प्रीमियम भुगतान तय समय तक ही करना होगा। वहीं सिंगल प्रीमियम में एक बार ही भुगतान किया जा सकेगा। यह बीमा 80 साल तक की कवरेज देता है।

इस बीमा में डेथ बेनेफिट का विकल्प भी मिलता है। हालांकि नॉमिनी इसमें कोई बदलाव नहीं कर सकेंगे। एक्सीडेंट बेनेफिट भी इस बीमा के साथ मिलते हैं।

इस टर्म इंश्योरेंस प्लान का कोई मैच्योरिटी प्लान नहीं है और बीमाधारक की मौत होने पर नॉमिनी को तुरंत डेथ बेनेफिट मिलते हैं। वहीं बीमाधारक के जीवित रहने की स्थिति में पॉलिसी पीरियड के बाद कोई रकम नहीं मिलती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दर्ज करानी है FIR, पर नहीं मालूम क्या है शिकायत देने का तरीका? जानिए बारीकियां
2 अब घर बैठे 60 रुपये में लाइफ सर्टिफिकेट जमा कर सकेंगे पेंशनभोगी, सरकार ने बैंकों को दिए निर्देश
3 LIC Jeevan Shanti में 10 लाख के निवेश पर मिल सकता है 15000 रुपये पेंशन, खत्म होने वाला है ऑफर
IPL 2020 LIVE
X