ताज़ा खबर
 

WhatsApp पर कौन सा दोस्त ‘खा रहा है’ आपके फोन स्टोरेज पर सबसे ज्यादा जगह, यूं करें चेक

दरअसल, वॉट्सऐप पर चैट के दौरान आने वाले फोटो, वीडियो व अन्य फाइल फॉर्मैट खुद-ब-खुद (बाय डीफाल्ट) डिवाइस में सेव हो जाते हैं। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, स्मार्टफोन में कई बार हद से अधिक डेटा सेव होने की वजह से वह हैंग होने लगता है।

Author नई दिल्ली | May 22, 2019 6:24 PM
आईफोन और एंड्रॉयड प्लैटफॉर्म पर यह चीज पता लगाने का तरीका लगभग एक जैसा है। (क्रिएटिवः नरेंद्र कुमार)

सोशल मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप अपने यूजर्स को यह जानने की सुविधा देता है कि उनके स्मार्टफोन पर कौन सा कॉन्टैक्ट (दोस्त, रिश्तेदार या कोई और) सबसे ज्यादा स्टोरेज खा रहा है। फोटो, ऑडियो और वीडियो समेत अन्य फाइलों के रूप में ये डेटा न केवल फोन में बेवजह की जगह घेरता है, बल्कि डिवाइस के परफॉर्मेंस और स्पीड पर भी असर डालता है। टेक एक्सपर्ट्स के मुताबिक, स्मार्टफोन में कई बार हद से अधिक डेटा सेव होने की वजह से वह हैंग होने लगता है। ऐसे में पता लगाएं कि आखिर वॉट्सऐप पर कौन सा दोस्त आपके फोन पर सबसे अधिक जगह खा रहा है।

iPhone पर ऐसे करें चेकः सबसे पहले डिवाइस पर वॉट्सऐप खोल लें। फिर सेटिंग्स में जाएं। आगे डेटा और स्टोरेज यूसेज के विकल्प पर टैप करें, जिसके बाद स्टोरेज यूसेज पर क्लिक करना होगा। यह काम करते ही आपके सामने उन कॉन्टैक्ट्स की पूरी सूची आ जाएगी, जो डेटा के मामले में फोन पर सबसे अधिक जगह घेरे होंगे।

Android के लिए ये है तरीकाः स्मार्टफोन में वॉट्सऐप खोल लें और सेटिंग्स में जाएं। फिर डेटा और स्टोरेज यूसेज में जाना होगा। आगे स्टोरेज यूसेज में आपको उन कॉन्टैक्ट्स की लिस्ट मिलेगी, जो फोन पर सबसे अधिक स्पेस ले रहे होंगे।

इस प्रोसेस से यह साफ हो जाएगा कि आखिर कौन सा कॉन्टैक्ट आपको सबसे ज्यादा मल्टीमीडिया फाइल्स भेजता है। चूंकि, यह फाइल फॉर्मैट काफी हेवी माना जाता है, लिहाजा जानकारी के बाद यूजर गैलरी में जाकर वॉट्सऐप के मीडिया फोल्डर में उस कॉन्टैक्ट से जुड़े डेटा को आसानी से डिलीट कर सकेगा।

दरअसल, वॉट्सऐप पर चैट के दौरान आने वाले फोटो, वीडियो व अन्य फाइल फॉर्मैट खुद-ब-खुद (बाय डीफाल्ट) डिवाइस में सेव हो जाते हैं। ऐसे में वॉट्सऐप चैट के डेटा की वजह से फोन पर कई बार लोग जरूरी फाइलें या सामग्री नहीं रख पाते। हालांकि, इस समस्या से छुटकारे के लिए सोशल मैसेजिंग ऐप ऑटो-डाउनलोड्स को निष्क्रिय (डिसएबल) करने का विकल्प भी देती है। इसके तहत यूजर चुन पाता है कि कौन सी फाइल वह डाउनलोड करना चाहता है और कौन सी नहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X