ताज़ा खबर
 

HDFC, SBI, ICICI से लेकर PNB में ऑनलाइन खोलें PPF अकाउंट, ये है तरीका

हालांकि, एसबीआई और पीएनबी में पीपीएफ खाते खुलवाने की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन नहीं है। खाता खुलवाने के लिए एक बार व्यक्ति को बैंक शाखा जाकर दस्तावेज जमा कराने पड़ते हैं, जिसके बाद ही प्रक्रिया पूरी होती है।

Author नई दिल्ली | Published on: June 19, 2019 7:12 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (क्रिएटिवः नरेंद्र कुमार)

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ) खाता खुलवाना अब और भी सरल हो चुका है। घर बैठे इंटरनेट बैंकिंग के जरिए एचडीएफसी, एसबीआई, आईसीआईसीआई से लेकर पीएनबी जैसे शीर्ष बैंकों में यह अकाउंट खुलवाया जा सकता है। हालांकि, एसबीआई और पीएनबी में पीपीएफ खाते खुलवाने की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन नहीं है। खाता खुलवाने के लिए एक बार व्यक्ति को बैंक शाखा जाकर दस्तावेज जमा कराने पड़ते हैं, जिसके बाद ही प्रक्रिया पूरी होती है। वहीं, दूसरी ओर आईसीआईसीआई और
एचडीएफसी बैंक में यह प्रक्रिया पूरी तरह से डिजिटल है, जहां ग्राहक को खाते के लिए बैंक नहीं जाना पड़ता। इन दोनों बैंकों में डिटेल्स मुहैया कराने के बाद ग्राहक फौरन पैसे जमा करना शुरू कर सकता है।

SBI के लिए ये है प्रोसेसः भारतीय स्टेट बैंक में पीपीएफ खाता खुलवाने के लिए वहां बचत खाता होना जरूरी है। नेटबैंकिंग के जरिए एसबीआई के पोर्टल पर लॉगइन करें और मांगी गई जानकारी दें। आगे ‘रिक्वेस्ट एंड इन्क्वायरी’ विकल्प में ‘न्यू पीपीएफ अकाउंट’ पर क्लिक करें। फिर ‘अप्लाई फॉर पीपीएफ अकाउंट’ का ऑप्शन मिलेगा, जहां बैंक, नॉमिनी और अन्य डिटेल्स भरने होंगे। साथ ही ब्रांच कोड भी बताना होगा (जहां खाता खुलाना हो)। ये सारी चीजें भरने के बाद ‘प्रोसीड’ पर क्लिक करना होगा, जिसके कुछ समय बाद पीपीएफ खाता बन जाएगा। नेट बैंकिंग पोर्टल पर उसकी खाता संख्या भी दिखेगी। ध्यान रखें कि इस काम के 30 दिनों के भीतर बैंक जाकर केवाईसी भी करानी होगी।

PNB में काम आएगी यह प्रक्रियाः यहां भी ग्राहक का सेविंग्स अकाउंट होना अनिवार्य है। पीएनबी की नेट बैंकिंग के जरिए लॉग इन करें और ‘माई शॉर्ट कट’ ऑप्शन पर जाएं। वहां पीपीएफ खाते का टैब मिलेगा, उस पर ‘ओपन ए पीपीएफ अकाउंट’ पर जाएं। आगे एक फॉर्म खुल कर आ जाएगा। नीचे मीन्यू में ‘सेल्फ अकाउंट या फिर माइनर अकाउंट’ के बीच चुनने का विकल्प मिलेगा। फिर ब्रांच के बारे में पूछा जाएगा, जहां आप पीपीएफ खाता खुलवाना चाहते हों। ये जानकारियां भर कर आगे
बढ़ने पर उसी पोर्टल पर एक रिफरेंस नंबर मिलेगा। सात दिनों के भीतर पीपीएफ से जुड़ा फॉर्म भर कर बैंक शाखा में भी जमा करना होगा, अन्यथा ऑनलाइन भरे गए फॉर्म और जानकारी को अमान्य माना जाएगा। केवाईसी पूरी होते बैंक खाता खोल देगा।

कैसे खुलेगा ICICI बैंक में खाता?: इस बैंक में भी पीपीएफ खाते के लिए बचत खाता होना जरूरी है। आईसीआईसीआई नेट बैंकिंग पर लॉग इन कर ‘माई अकाउंट’ पर जाएं, जहां पीपीएफ खाते से जुड़ा टैब मिलेगा। आगे स्क्रीन पर सेविंग्स अकाउंट से पीपीएफ खाते में रकम जमा कराने का विकल्प भी मिलेगा। यह रकम कुछ-कुछ अंतराल पर ऑटो डेबिट के जरिए बचत खाते से कटकर पीपीएफ अकाउंट में जमा होगी। उसी दौरान कुछ जरूरी जानकारियां भी मांगी जाएंगी, मसलन जमा की जाने वाली रकम और नामिनी का ब्यौरा। आगे डिटेल्स वेरिफाई करने के लिए कहा जाएगा, जिसके बाद पीपीएफ खाता खोल दिया जाएगा।

HDFC बैंक के लिए अपनाएं यह तरीकाः यहां भी पीपीएफ खाता खुलवाने के लिए बचत खाता होना चाहिए। नेट बैंकिंग पर लॉगइन कर ‘अकाउंट सेक्शन’ में ‘पीपीएफ’ के टैब पर जाएं। आगे बैंक, नामिनी और अन्य डिटेल्स भरें। फिर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा, जिसकी मदद से फौरन पीपीएफ खाता खुल जाएगा। हालांकि, इससे पहले बैंक डिटेल्स वेरिफाई करेगा। खाता खुलने के बाद यूजर आसानी से सेविंग्स अकाउंट से पीपीएफ में आसानी से फंड ट्रांसफर कर सकेंगे।

इन बातों का भी रखें ख्यालः

– सभी चार बैंकों में नेट बैंकिंग के पोर्टल पर पीपीएफ खाते का वार्षिक स्टेटमेंट देखा जा सकेगा।
– पीपीएफ खाता खोलते वक्त उसमें कम से कम 500 रुपए जमा करने होंगे, जबकि अकाउंट मैच्योर होने तक इतनी ही रकम हर वित्त वर्ष में उसमें रखनी होगी।
– एक वित्त वर्ष में ग्राहक अधिकतम 1.5 लाख रुपए इस खाते में जमा कर सकेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Whatsapp: शर्मिंदा होने से बचाएगा यह फीचर, आने वाला है नया अपडेट
2 BHIM, Google Pay या PhonePe पर ट्रांजेक्शन में विवाद? जानें कहां और कैसे कर सकते हैं शिकायत
3 Xiaomi, Samsung जैसे स्मार्टफोन की ओवरहीटिंग से परेशान? अपनाएं ये तरीका