PF खातों में EPFO क्रेडिट करने लगा ब्याज, यूं चेक करें कि आपको कितने की हुई कमाई

अगर किसी व्यक्ति ने चार अलग-अलग कंपनियों में काम किया हो, तब उसे चार विभिन्न आईडी में से एक को चुनना होगा।

rupees, pf, epfo
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः pixabay.com)

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने दिवाली से पहले पीएफ ग्राहकों के चेहरे पर मुस्कान लाते हुए भविष्य निधि खातों में ब्याज जमा करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कई पीएफ खाताधारकों को वित्त वर्ष 2020-21 के लिए पहले ही 8.5% का ब्याज क्रेडिट मिल चुका है। हालांकि, कुछ लोग अपने खाते में जमा ब्याज राशि को देखने के लिए वेबसाइट पर लॉग इन करने में असमर्थ हैं।

ईपीएफओ के एक ट्वीट के मुताबिक, “ईपीएफओ ने ईपीएफ सदस्यों के लगभग 25 करोड़ खातों में पीएफ की ब्याज दर 8.5 प्रतिशत जमा करने के निर्देश जारी किए हैं। 30 अक्टूबर 2021 के एक सर्कुलर में ईपीएफओ ने कर्मचारी भविष्य निधि सदस्य खातों के लिए वर्ष 2020-21 के लिए ब्याज दर की घोषणा की।

इसके अनुसार, “श्रम और रोजगार मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि योजना, 1952 के पैरा 60(1) के तहत केंद्र सरकार की मंजूरी से प्रत्येक सदस्य के खाते में वर्ष 2020-21 के लिए 8.50 प्रतिशत की दर से ब्याज क्रेडिट करने की मंजूरी दे दी है।”

आइए जानते हैं कि किन-किन तरीकों से चेक किया जा सकता है पीएफ खाते का बैलेंस:

  • SMS से भी पीएफ खाते का बैलेंस चेक किया जा सकता है। जिन ईपीएफओ सदस्यों का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) ईपीएफओ पोर्टल पर रजिस्टर्ड है, वे 7738299899 नंबर पर EPFOHO UAN ENG टाइप कर के एसएमएस भेज सकते हैं।
  • मिस कॉल के जरिए भी पीएफ खाते का बैलेंस पता किया जा सकता है। पंजीकृत यूजर्स 011-22901406 नंबर पर मिस कॉल दे सकते हैं, जिसके बाद उन्हें पीएफ खाते के बैलेंस से जुड़े डिटेल्स एसएमएस के जरिए मिल जाएंगे।
  • UMANG App की मदद से भी पीएफ खाते की पासबुक को एक्सेस किया जा सकता है। यूएएन और ओटीपी की मदद से लॉग-इन किया जा सकता है, जिसके बाद आप पीएफ खाते के डिटेल्स हासिल कर सकते हैं।
  • EPFO वेबसाइट के माध्यम से भी यह काम किया जा सकता है। सबसे पहले ईपीएफओ की साइट पर जाना होगा, जिसके बाद “अवर सर्विसेज” का टैब मिलेगा, जिसमें “फॉर एम्प्लाइज” सेक्शन पर क्लिक करना होगा। नए पेज पर “मेंबर पासबुक” का विकल्प मिलेगा, जिस पर क्लिक करें। आगे आपसे यूएएन और पासवर्ड मांगा जाएगा। लॉग इन करने के बाद आपकी पासबुक में आपको कर्मचारी के सहयोग वाली जमा रकम और कमाए गए ब्याज के डिटेल्स सामने दिखेंगे। अगर किसी व्यक्ति ने चार अलग-अलग कंपनियों में काम किया हो, तब उसे चार विभिन्न आईडी में से एक को चुनना होगा।

पढें यूटिलिटी न्यूज समाचार (Utility News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट