ताज़ा खबर
 

PM किसान योजना में 1.60 लाख रुपए का लोन मिलता है बिना गारंटी, पर इससे ज्यादा कर्ज की जरूरत हो तो क्या करना होगा? ये है समाधान

Kisan Credit Card Agriculture Loan: किसानों के मन में अक्सर यह सवाल आता है कि अगर उन्हें 1.60 रुपये से ज्यादा के लोन की जरूरत है तो इसके लिए क्या करना होगा। इस योजना में इसका भी समाधान किया गया है।

किसान सम्मान निधि योजना के हर लाभार्थी को मिलेगा क्रेडिट कार्ड

Kisan Credit Card Agriculture Loan: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi) के तहत किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए लोन मुहैया करवाए जाते हैं। यह लोन अन्य बैंकों की तुलना में बेहद सस्ती दर पर उपलब्ध हैं। किसानों को समय पर कर्ज चुकाने पर किसानों को 4 फीसदी की सस्ती ब्याज दर 3 लाख रुपये तक का लोन मिल जाता है। योजना के तहत 1.60 लाख रुपए का लोन बिना गारंटी के दिया जाता है।

लेकिन किसानों के मन में अक्सर यह सवाल आता है कि अगर उन्हें 1.60 रुपये से ज्यादा के लोन की जरूरत है तो इसके लिए क्या करना होगा। इस योजना में इसका भी समाधान किया गया है। ग्राहकों को अगर 1.60 लाख रुपये से ऊपर का लोन चाहिए होता है तो उन्हें बॉन्ड पेपर भरना होता है।

बैंक में बॉन्ड पेपर भरने के बाद आपको लोन मुहैया करवा दिया जाएगा। दरअसल बिना गारंटी लोन देकर सरकार किसानों को किसी बिचौलिए से दूर रखना चाहती है जो उच्च ब्याज दर पर किसानों की मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें कर्ज देते हैं।

बता दें कि लोन ही नहीं बल्कि केंद्र की इस योजना के तहत 12 रुपये और 330 रुपये के प्रीमियम पर किसानों को 2 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा भी मुहैया करवाया जा रहा है। इसके अलावा जीवन बीमा भी उपलब्ध कराया जा रहा है। खेती के लिए ही नहीं बल्कि पशुपालन और मछलीपालन के लिए भी किसान क्रेडिड कार्ड के जरिए किसानों को लोन मुहैया करवाया जाता है। पशुपालन और मछलीपालन के लिए किसानों को 2 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 व्हाइट लेबल ATM क्या है? कौन करता है इन्हें जारी, जानें इसके फायदे
2 पोस्ट ऑफिस में है खाता? एक दिन में पैसे निकालने की लिमिट कितनी है? यहां जानें
3 कैश की जगह चेक से कर रहे हैं लेन-देन? तो न करें ये गलतियां, हो सकता है नुकसान