scorecardresearch

माता-पिता के लिए हेल्‍थ इंश्‍योरेंस खरीदते समय इन बातों का रखें ध्‍यान, नहीं तो बाद में होगी दिक्कत

हेल्‍थ पॉलिसी आपने अपने पेरेंट्स के लिए सेलेक्‍ट की है उसका वेटिंग पीरियड जरूर जांच लेना चाहिए। सीनियर सिटीजंस को अस्‍पताल की जरुरत कब पड़ जाए कुछ भी कहा नहीं जा सकता है।

Health Insurance, Parents, Medical Insurance,
हेल्‍थ पॉलिसी आपने अपने पेरेंट्स के लिए सेलेक्‍ट की है उसका वेटिंग पीरियड जरूर जांच लेना चाहिए।

उम्र के साथ सेहत खराब होना स्वाभाविक है। अगर आप अपने माता-पिता की सेहत के प्रति जागरूक है तो आपको उनके लिए मेडिकल हेल्थ पॉलिसी जरूर लेनी चाहिए। क्योंकि उम्र के साथ हार्ट, शुगर, वीपी सहित कई दूसरी गंभीर बीमारी घेरती है। ऐसे में आपके माता-पिता के पास मेडिकल हेल्थ पॉलिसी है तो उनके स्वास्थ्य पर खर्च होने वाले पैसे के बोझ का सीधा असर जेब पर नहीं पड़ेगा। वहीं मेडिकल हेल्थ पॉलिसी के जरिए उन्हें बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं भी मिलेगी। आइए जानते है माता-पित के लिए हेल्थ पॉलिसी लेने से पहले किन बातों का ख्याल रखना चाहिए।

वेटिंग पीरियड की जांच करें – जो भी हेल्‍थ पॉलिसी आपने अपने पेरेंट्स के लिए सेलेक्‍ट की है उसका वेटिंग पीरियड जरूर जांच लेना चाहिए। सीनियर सिटीजंस को अस्‍पताल की जरुरत कब पड़ जाए कुछ भी कहा नहीं जा सकता है। ऐसे में जिस पॉलिसी में कम से कम वेटिंग पीरियड हो उसी पॉलिसी का सेलेक्‍शन करना चाहिए।

एक्‍सक्‍लूशंस और सब लिमिट को पढ़ें – हमेशा ऐसी पॉलिसी को चुनना बेहतर होता है जिसमें कम या कुछ बाहर ना हो। पॉलिसी से एक्‍सक्‍लूशंस को समझने के लिए पॉलिसी डॉक्‍युमेंट्स को ध्यान से पढ़ना चाहिए। कई सीनियर सिटीजंस हेल्‍थ पॉलिसी सब लिमिट को पेमेंट्स के साथ साथ आती हैं। इसके अतिरिक्त, उन प्रोसेस और ट्रीटमेंट को समझें जिनमें सब लिमिट या को-पेमेंट क्‍लॉज लगे हुए हैं।

पहले से मौजूद बीमारियों के संबंध में नियम और शर्तें – सिनियर सिटीजन के लिए सही स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी चुनना मुश्किल हो सकता है। पहले आपको पूर्व-मौजूदा बीमारियों के संबंध में नियम और शर्तों की जांच करना जरूरी है। इसे उदाहरण से समझने का प्रयास करते हैं कुछ पूर्व-मौजूदा बीमारियों या उपचारों को पॉलिसी में शामिल किया गया है या नहीं, वहीं सभी को-पेमेंट पेमेंट, वेटिंग पीरियड, आदि।

यह भी पढ़ें: LIC की कन्‍यादान पॉलिसी में हर दिन के निवेश पर मिलेगा मोटा पैसा, पा सकते हैं 27 लाख के आसपास की रकम

हाई सम एश्‍योर्ड पॉलिसी की तलाश करें – सीनियर सिटीजन के लिए सर्जरी/ट्रीटमेंट का मेडिकल कॉस्‍ट काफी ज्‍यादा होता है। इसलिए कॉस्‍ट की उस असमानता को पाटने के लिए एक हाई सब इंश्‍योर्ड अमाउंट पॉलिसी की तलाश करनी चाहिए। देशपांडे कहते हैं, “हेल्‍थ पॉलिसी लेने से पहले कई बीमा कंपनियों से विभिन्न योजनाओं और प्रीमियम की तुलना करनी चाहिए और अपने पेरेंट्स और गार्जियन के लिए एक आदर्श योजना का चयन करना चाहिए।

टैक्‍स बेनिफ‍िट भी प्राप्‍त करें – आप आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80डी के तहत वरिष्ठ नागरिक बीमा पॉलिसियों के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम के लिए 50,000 रुपए तक की छूट भी प्राप्त कर सकते हैं।

पढें यूटिलिटी न्यूज (Utility News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट